Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

वेटिकन ने बिशप की नियुक्तियों पर चीन के साथ किया ऐतिहासिक समझौता

वेटिकन ने चीन में बिशप की नियुक्ति पर ऐतिहासिक समझौते की घोषणा की जिससे दुनिया की सबसे ज्यादा आबादी वाले देश और कैथोलिक चर्च के बीच संबंधों के सामान्य होने का रास्ता निकल सकता है।

वेटिकन ने बिशप की नियुक्तियों पर चीन के साथ किया ऐतिहासिक समझौता

वेटिकन ने चीन में बिशप की नियुक्ति पर कम्युनिस्ट देश के साथ ऐतिहासिक समझौते की शनिवार को घोषणा की जिससे दुनिया की सबसे ज्यादा आबादी वाले देश और कैथोलिक चर्च के बीच संबंधों के सामान्य होने का मार्ग प्रशस्त हो सकता है।

चीन ने तुरंत कहा कि उसे संबंध बेहतर होने की उम्मीद है जबकि ताइवान ने कहा कि चीन के साथ समझौते के बावजूद वेटिकन के साथ संबंध सुरक्षित हैं।

इसे भी पढ़ें- कर्नाटक: कांग्रेस का येदियुरप्पा पर बड़ा आरोप, कहा- भाजपा कर रही है हॉर्स ट्रेडिंग

चीन में तकरीबन एक करोड़ 20 लाख कैथोलिक सरकार द्वारा संचालित एक एसोसिएशन और एक गैर सरकारी चर्च के बीच विभाजित हैं। यह गैर सरकारी चर्च वेटिकन के प्रति निष्ठा रखता है।

एसोसिएशन के तहत आने वाले चर्च के पादरियों की नियुक्ति चीन की कम्युनिस्ट पार्टी करती है। वेटिकन के कम्युनिस्ट पीपुल्स रिपब्लिक की स्थापना के दो साल बाद 1951 से ही चीन के साथ कूटनीतिक संबंध नहीं है।

इसे भी पढ़ें- राफेल डील: ओलांद के बयान पर घमासान जारी, AAP ने मांगा पीएम मोदी का इस्तीफा

वेटिकन ने एक बयान में कहा कि चीन के साथ प्राथमिक समझौता सावधानीपूर्वक की गई बातचीत की लंबी प्रक्रिया के बाद हुआ है। वेटिकन के प्रवक्ता ग्रेग बुर्के ने लिथुआनिया की राजधानी में पत्रकारों से कहा कि इस समझौते का मकसद राजनीतिक नहीं बल्कि पादरी संबंधी है।

इसका मकसद कैथोलिक के लिए ऐसे बिशप नियुक्त करना है जो रोम से जुड़े हो लेकिन साथ ही उन्हें चीनी अधिकारियों से मान्यता मिली हो।

वेटिकन दुनिया के उन 17 देशों में से एक है जो बीजिंग के बजाय ताइपे को मान्यता देता है लेकिन पोप फ्रांसिस ने 2013 में पदभार संभालने के बाद से ही चीन के साथ संबंध सुधारने का आह्वान किया है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top