Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

साउथ एशियन देशों को ''Loan Trap'' में फंसा रहा है चीन, घाटा होने पर भी भारत के पड़ोसी देशों को दे रहा है पैसा

साउथ एशियन देशों जैसे नेपाल, म्यांमार और पाकिस्तान के साथ चीन के बीच हर साल व्यापार घाटा बढ़ता ही जा रहा है, इसके बावजूद चीन बहुत ज्यादा मात्रा में द्वपक्षीय ऋण दे रहा है।

साउथ एशियन देशों को

साउथ एशियन देशों जैसे नेपाल, म्यांमार और पाकिस्तान के साथ चीन के बीच हर साल व्यापार घाटा बढ़ता ही जा रहा है, इसके बावजूद चीन बहुत ज्यादा मात्रा में द्वपक्षीय ऋण दे रहा है।

काठमांडु पोस्ट के अनुसार, अकेले नेपाल में, चीन के साथ आयात और निर्यात मूल्यों के बीच अंतर 21.4 प्रतिशत तक बढ़ गया है। इस वित्त वर्ष के पहले 10 महीने में दोनों देशों के बीच 124.54 बिलियन रुपए का व्यापार हुआ।

नेपाल राष्ट्र बैंक ने खुलासा किया है कि 2015-16 के दौरान दोनों देशों के बीत 91.18 बिलियन रुपए का व्यापार हुआ। चीन की धीरे-धीरे नेपाल सहित इन दक्षिण एशिया देशों को ऋण जाल में मजबूती से फंसाता जा रहा है।

काठमांडु पोस्ट के अनुसार युन्नान फॉरेन अफेयर्स ऑफिस के डायरेक्टर जनरल ली जिमिंग ने कहा था कि इन दक्षिण एशियाई देशों को द्विपक्षीय वित्तीय सहायता देने का, चीन का एकमात्र उद्देश्य इन देशों की आर्थिक क्षमता को बाहर करना है।

ली जिमिंग ने ये भी कहा था कि इन देशों को लंबे समय तक ऋण देने का हमारा फैसला है इनके विकास के लिए है, हमने इन देशों में आवश्यक बुनियादी ढांचे बनाने के लिए वित्त सहायता में वृद्धि की है जो उनकी निर्यात क्षमता को बढ़ाने में मदद कर सकती है।

Next Story
Top