Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अरुणाचल में चीन ने दो बार सीमा लांघीं

रिजिजू ने कहा चीन ने वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास के इलाके को पार किया।

अरुणाचल में चीन ने दो बार सीमा लांघीं
नई दिल्ली. असम-अरुणाचल प्रदेश की सीमा के समीप सोनितपुर में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में एनडीएफबी (एस) के तीन उग्रवादी मारे गए। सोनितपुर की पुलिस अधीक्षक संयुक्ता पराशर ने शुक्रवार को बताया कि जब मैनार्शी पहाड़पुर में पुलिस, सीआरपीएफ-कोबरा बटालियन और सेना की संयुक्त टीम एनडीएफबी (एस) के कार्यकर्ताओं के लिए खोज अभियान चला रही थी, तब यह मुठभेड़ हुई।
अतिक्रमण का मामला है
केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू ने कहा कि चीनी सेना ने पिछले महीने दो बार अरुणाचल प्रदेश की सीमा का अतिक्रमण किया था, लेकिन इसे घुसपैठ नहीं कहा जा सकता, यह सीमा अतिक्रमण का मामला है। पूर्वोत्तर राज्य में पासीघाट एडवांस लैंडिंग ग्राउंड (एएलजी) का उद्घाटन करने के बाद उन्होंने यहां पत्रकारों को बताया कि हम इसे घुसपैठ नहीं बल्कि अतिक्रमण कह सकते हैं, क्योंकि चीनी थलसेना ने वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास के इलाके को पार किया।
केंद्र पहले ही बुनियादी संरचना को मजबूत कर चुका है
रिजिजू ने कहा कि 22 जुलाई को एक घटना की सूचना सुदूर एंजॉ जिले के किबिथू इलाके से मिली और दूसरी घटना पिछले ही महीने तवांग जिले के थांगसा में सामने आई। उन्होंने कहा कि जब भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) और केंद्र सरकार ने इसके बारे में पता लगाया तो पाया कि यह सीमा के अतिक्रमण की घटना थी। एएलजी से सू-30 एमकेआई जैसे लड़ाकू विमान उड़ान भर सकेंगे और वहां उतर सकेंगे। इससे चीन से लगी सीमा पर भारत की सैन्य क्षमताओं को बड़ी ताकत हासिल हुई है। सीमा क्षेत्र में आधारभूत संरचना मामले में रिजिजू ने कहा कि केंद्र पहले ही बुनियादी संरचना को मजबूत बनाने का काम शुरू कर चुका है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top