Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चीन ने फिर किया पाकिस्तान का समर्थन, कहा- अमेरिकी की आतंकवादी नीति का विरोध करता हूं

पाकिस्तान में मौजूद आतंकवादियों के सुरक्षित पनाहगाहों को खत्म करने को लेकर इस्लामाबाद पर बढ़ते अमेरिका दबाव बनाया। इसी दबाव के बीच चीन ने उक्त बात कहते हुए अपने दोस्त का समर्थन किया है।

चीन ने फिर किया पाकिस्तान का समर्थन, कहा- अमेरिकी की आतंकवादी नीति का विरोध करता हूं
X

चीन ने सोमवार को कहा कि यूएस द्वारा पाक पर उंगली उठाए जाने और उसे आतंकवाद के साथ जोड़ने का वह विरोध करता है। बीजिंग ने इस पर जोर दिया कि आतंकवादी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई की जिम्मेदारी किसी देश विशेष पर नहीं डाली जा सकती है।

आपको बता दें कि पाकिस्तान में मौजूद आतंकवादियों के सुरक्षित पनाहगाहों को खत्म करने को लेकर इस्लामाबाद पर बढ़ते अमेरिका दबाव बनाया। इसी दबाव के बीच चीन ने उक्त बात कहते हुए अपने दोस्त का समर्थन किया है।

यह भी पढ़ें- जानिए क्या है धारा 377, भारतीय संविधान में क्या है सजा का प्रावधान

पाकिस्तान तालिबान और हक्कानी नेटवर्क जैसे आतंकवादी समूहों के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई करने में असफल रहा। इसके बाद अमेरिका ने सुरक्षा सहायता के रूप में पाकिस्तान को मिलने वाली दो अरब डॉलर की राशि पिछले हफ्ते निलंबित कर दी थी।

आतंकवाद पर चीन ने चली नई चाल

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लु कांग ने संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा, चीन हमेशा से आतंकवाद को देश विशेष से जोड़ने के खिलाफ रहा है। हम आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई की जिम्मेदारी किसी देश विशेष पर डालने पर भी राजी नहीं है।

यह भी पढ़ें- पुलिस के हत्थे चढ़ा राम रहीम के अनुयायियों को नपुंसक बनाने वाला डॉक्टर, किये कई चौंकाने वाले खुलासे!

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लु कांग व्हाइट हाउस के एक अधिकारी के बयान पर जवाब दे रहे थे, जिसमें अधिकारी ने कहा था कि चीन पाकिस्तान को यह समझाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है कि आतंकवादियों के सुरक्षित पनाहगाह के खिलाफ कार्रवाई करना उसके अपने हित में है।

पाकिस्तान वैश्विक आतंकवाद

उन्होंने कहा, हमने कई बार इस बात पर जोर दिया है कि पाकिस्तान ने वैश्विक आतंकवाद-निरोधी कार्रवाई की दिशा में बहुत बलिदान दिये हैं और महत्वपूर्ण योगदान दिये हैं।

कांग ने कहा कि देशों को परस्पर सम्मान और आपसी सहयोग के जरिए आतंकवाद-निरोधी सहयोग को मजबूत करना चाहिए, नाकि एक-दूसरे पर उंगली उठानी चाहिए। यह दुनिया भर में आतंकवाद के खिलाफ चलाए जा रहे मुहिम के लिए सही नहीं है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story