Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चंडीगढ़: डेंगू के 400 मामले, 49 को चिकनगुनिया

राज्य के अंदर 49 मरीज हैं, जिनमें से 33 अभी भी अस्पातलों में भर्ती हैं।

चंडीगढ़: डेंगू के 400 मामले, 49 को चिकनगुनिया
X
चंडीगढ़. सूबे में डेंगू और चिकनगुनिया के केस कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं। डेंगू के मामले पूरे राज्य के अंदर चार सौ तक पहुंचे हुए हैं। इसी तरह से चिकनगुनिया की गिरफ्त में आए मरीजों की संख्या भी कम नहीं है, राज्य के अंदर 49 मरीज हैं, जिनमें से 33 अभी भी अस्पातलों में भर्ती हैं। इस बीच कुछ प्राइवेट लैंस द्वारा जांच के नाम पर अधिक वसूली की शिकायतें राजधानीं तक पहुंच रही हैं। इस पर सेहत मंत्री अनिल विज ने नाराजगी जाहिर करते हुए इस तरह के लोगों को चेतावनीं जारी करने और कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।
अतिरिक्त स्टाफ तैनात
सेहत मंत्री अनिल विज का कहना है कि जहां-जहां पर भी मरीजों की संख्या ज्यादा है, वहां पर अतिरिक्त स्टाफ लगाया गया है। साथ ही लोगों से अपने कूलर आदि साफ रखने व सप्ताह में एक दिन ड्राई डे मनाने की अपील की है। उन्होंने बताया कि खुद अपने जिले में उन्होंने लालकुर्ती क्षेत्र में जाकर सफाई आदि करायी व लोगों से जागरूकता के साथ में रहने की अपील कीए जिसका असर हो रहा है। डायरेक्टर मलेरिया विजय गर्ग का कहना है कि पंचकूला और अंबाला, गुरुग्राम व फरीदाबाद जैसे जिलों में वे खास मुहिम चला रहे हैं। ताकि लोगों में भय नहीं होकर जनजागरण हो। इसके साथ प्रदेश के अन्य जिलों में भी जागरूकता अभियान चल रहा है। मांगों की आड़ में राजनीति को सहन नहीं किया जाएगा
स्कूलों में दिया जा रहा जागरूकता का संदेश
स्वास्थ्य मंत्री विज ने बताया कि हमारी सरकार सभी संघों एवं एसोसिएशन की मांगों पर सौहार्दपूर्वक विचार करती रही है, परंतु ये सभी लैब टेक्निशियन अपनी मांगों की आड़ में राजनीति करने लगे हैं, जिसको सभ्य समाज में कभी स्वीकार नही किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि इसके लिए शीघ्र नई भर्ती की प्रक्रिया शुरू की जाएगी और नई व्यवस्था नही हो पाती तब तक विभाग के चिकित्सक एवं नर्सिंग स्टाफ लोगों की सेवाएं करेंगे। अनुबंध के आधार पर लगे कर्मियों को बाहर का रास्ता
मुफ्त जांच की सुविधा
डा. गर्ग का कहना है कि लोगों को सरकारी अस्पताल में जांच की मुफ्त व्यवस्था की गई है। जबकि बाहर भी फीस फिक्स कर दी गई है। इसके बाद भी कोई ज्यादा फीस वसूलता है, तो उस पर कार्रवाई होगी। खुद मंत्री अनिल विज रोजाना की रिपोर्ट की समीक्षा जारी रखे हुए हैं। उधर दिल्ली और चंडीगढ़ से आवाजाही के कारण भी मरीजों की संख्या बढ़ी है क्योंकि मूवमेंट के कारण भी कईं बार मरीजों के आने के कारण केस बढ़ जाते हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story