Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

''कार्यकर्ताओं की नाराजगी और अनदेखी के चलते मिली हार''

भाजपा किसान मोर्चा की प्रदेश कार्यसमिति में सोमवार को जैसे ही कार्यकर्ताओं को अपनी बात रखने का मौका दिया गया, कई कार्यकर्ताओं ने जमकर भड़ास निकाली। सभी कार्यकर्ताओं ने एक स्वर में कहा, विधानसभा चुनाव में पार्टी को जो करारी हार मिली है, उनके पीछे का मुख्य कारण कार्यकर्ताओं की नाराजगी और उपेक्षा है।

कार्यकर्ताओं की नाराजगी और अनदेखी के चलते मिली हार
X
भाजपा किसान मोर्चा (BJP Kisaan Morcha) की प्रदेश कार्यसमिति में सोमवार को जैसे ही कार्यकर्ताओं को अपनी बात रखने का मौका दिया गया, कई कार्यकर्ताओं ने जमकर भड़ास निकाली। सभी कार्यकर्ताओं ने एक स्वर में कहा, विधानसभा चुनाव में पार्टी को जो करारी हार मिली है, उनके पीछे का मुख्य कारण कार्यकर्ताओं की नाराजगी और उपेक्षा है।
एकात्म परिसर में बैठक में जब पदाधिकारियों ने अपनी बात रख ली तो, कार्यकर्ताओं से पूछा गया कि वे कुछ कहना चाहते हैं तो कह सकते हैं। फिर इसके बाद क्या था, कार्यकर्ता इसी बात का तो इंतजार कर रहे थे। लाइन से कार्यकर्ताओं ने भड़ास निकालना प्रारंभ किया। सभी ने यही गिनाया कि भाजपा की हार का कारण कार्यकर्ताओं की नाराजगी रही है। कांग्रेस में कार्यकर्ताआें को दिए जाने वाले महत्व को भी गिनाया गया।

कांग्रेस ने किसानों से किया छलावा : कौशिक

बैठक में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा, सत्ता के चाह के चलते कांग्रेस किसानों से छलावा करके सत्ता में पहुंची है। कांग्रेस ने किसानों के साथ समाज के हर वर्ग को साधने का जो ड्रामा किया था, अब खुलासा होने वाला है। किसानों के साथ हो रही वादा खिलाफी के जवाब के लिए किसान मोर्चा कमर कस लें और हर मोर्चे पर कांग्रेस को जवाब दे।

मोर्चा प्रभारी रामप्रताप सिंह ने कहा, किसानों के हित की चिंता हम सदैव करते रहे हैं और भविष्य में भी किसानों के साथ यदि अनदेखी होगी तो हमें उग्र आंदोलन के लिए तैयार रहना होगा। प्रदेश संगठन मंत्री पवन साय ने कहा, किसान मोर्चा जितनी मजबूती से बात करेगा उतना ही किसानों को अधिक लाभ मिलेगा।

हमें किसानों के हित के लिए हमेशा मजबूती के साथ खड़ा रहना होगा। चाहे परिस्थतियां कुछ भी हो। किसान मोर्चा के प्रदेश प्रभारी व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शैलेन्द्र सिंह सेंगर ने कहा, छत्तीसगढ़ एक कृषि प्रधान राज्य है। जहां मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व मे कृषि विकास को लेकर बेहतर कार्य हुए हैं।

लेकिन जब से छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार आई है तब से किसानों को केवल कोरी कल्पनाओं व वादे ही किए जा रहे हैं और किसान ठगा सा महसूस कर रहा है। किसान मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष पूनम चंद्राकर ने कहा अब हमारी जवाबदारी दोहरी हो जाती है। अब किसान कांग्रेस के भ्रमजाल में फंस सा गया है। उन्होंने कहा, किसानों को कर्ज माफी के नाम पर छला जा रहा है, जिसके खिलाफ हमें उग्र लड़ाई लड़नी होगी।

ये रहे उपस्थित

इस मौके पर किसान मोर्चा के पूर्व अध्यक्ष संदीप शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष युधिष्टिर चंद्राकर, भरत वर्मा, अनिल पांडेय, महामंत्री भारत सिंह सिसोदिया, द्वारिकेश पांडेय, प्रदेश मंत्री गौरीशंकर श्रीवास, चंदन साहू, जागेश्वर साहू, मनीषा चंद्राकर, संध्या तिवारी, अजय साहू, संजीव चंद्राकर सहित कार्यसमिति के सदस्य किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष व महामंत्री उपस्थित थे।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story