Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पाक ने फिर तोड़ा सीजफायर, नौशेरा सेक्टर में गोलाबारी जारी

पाकिस्तान की गोलाबारी के दौरान रिहाइशी इलाकों को भी निशाना बनाया गया है।

पाक ने फिर तोड़ा सीजफायर, नौशेरा सेक्टर में गोलाबारी जारी
श्रीनगर. सर्जिकल स्ट्राइक और पाक रेंजर्स की नापाक हरकतों के पलटवार के कारण बौखलाया पाकिस्तान ने आज एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन किया है। एलओसी पर सुबह से ही पाकिस्तान की तरफ से गोलाबारी की जा रही है। पाकिस्तान की ओर से हो रही गोलाबारी का भारतीय सेना के जवानों द्वारा मुंहतोड़ जवाब देते हुए जवाबी कार्रवाई की जा रही है।
पाक की ओर से नौशेरा सेक्टर के कलाल सेक्टर में नियंत्रण रेखा से सटे इलाकों में गोलाबारी की जा रही है। पाकिस्तान की गोलाबारी के दौरान रिहाइशी इलाकों को भी निशाना बनाया गया है। जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान की ओर से सीजफायर उल्लंघन के बाद मोर्टार भी दागे गए हैं। ये गोलाबारी सुबह 8 बजे से चल रही है जो कि लगातार अब तक जारी है। हालांकि अभी किसी तरह के जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है।
सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तानी सैनिकों ने सुबह आठ बजकर 45 मिनट से नियंत्रण रेखा पर नौशेरा सैक्टर में गोलीबारी शुरू कर दी थी। सीमापार से हुई गोलीबारी में कोई हताहत नहीं हुआ है। पाकिस्तानी सैनिकों ने कल पुंछ जिले के मेंधार सैक्टर के मानकोट और बालकोट क्षेत्र को निशाना बनकर गोलीबारी की थी।
आपको बता दें दो माह पहले हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल हुए आतंकी सद्दाम को सुरक्षाबलों ने सोमवार को शोपियां (जम्मू कश्मीर) में हुई मुठभेड़ में मार गिराया। इस दौरान दो सुरक्षाकर्मी भी घायल हो गए। उनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। वहीं मारे गए आतंकी के दो साथी बच निकले। उनकी धरपकड़ के लिए सघन तलाशी अभियान जारी है। सद्दाम के मारे जाने की खबर फैलते ही शोपियां के विभिन्न हिस्सों में तनाव उत्पन्न हो गया। प्रशासन ने संवेदनशील इलाकों में निषेधाज्ञा लगा दी है। बीते तीन दिनों में शोपियां जिले में यह दूसरी मुठभेड़ है। दोनों मुठभेड़ों में बीते चार माह के दौरान आतंकी बने दो स्थानीय युवक मारे गए हैं।
गत शनिवार सुबह दोबजन इलाके में हुई मुठभेड़ में वसीम अहमद खांडे मारा गया था। वह 28 सितंबर को हिजबुल मुजाहिदीन में सक्रिय हुआ था। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि रविवार आधी रात को पता चला कि तीन आतंकी वानगाम गांव में आए हैं। उसी समय सेना की आरआर (राष्ट्रीय राइफल्स) और पुलिस के एसओजी (स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप) दस्ते के जवानों के संयुक्त कार्यदल ने गांव का रुख कर लिया। सुरक्षाबलों को देख आतंकियों ने ठिकाना छोड़ भागने का प्रयास किया। बाद में मुठभेड़ शुरू हो गई थी।
करीब पौने घंटा दोनों तरफ से रुक-रुक कर गोलियां चलीं। फिर जवानों ने मुठभेड़स्थल की तलाशी ली तो वहां गोलियों से छलनी एक आतंकी का शव मिला। उसके पास से एक असाल्ट राइफल, पांच मैगजीन, 119 कारतूस, एक ग्रेनेड व मोबाइल फोन मिला है। मारे गए आतंकी की सुबह में जब शिनाख्त कराई गई तो वह चितरीपोरा-शोपियां का रहने वाला सद्दाम हुसैन मीर निकला। सद्दाम के भाग निकले अन्य दो साथियों की तलाश में वानगाम और उसके साथ सटे इलाकों में तलाशी अभियान जारी है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top