Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

CBI VS CBI: सुप्रीम कोर्ट ने आलोक वर्मा को बहाल किया, CVC और सरकार का आदेश निरस्त

सुप्रीम कोर्ट ने आलोक कुमार वर्मा को सीबीआई निदेशक पद पर बहाल करते हुए उनके अधिकार वापस लेने और छुट्टी पर भेजने के केंद्र सरकार के फैसले को रद्द कर दिया।

CBI VS CBI: सुप्रीम कोर्ट ने आलोक वर्मा को बहाल किया, CVC और सरकार का आदेश निरस्त

सुप्रीम कोर्ट ने आलोक कुमार वर्मा को सीबीआई निदेशक पद पर बहाल करते हुए उनके अधिकार वापस लेने और छुट्टी पर भेजने के केंद्र सरकार के फैसले को रद्द कर दिया। शीर्ष अदालत ने हालांकि वर्मा के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप में केंद्रीय सतर्कता आयोग की जांच पूरी होने तक वर्मा को कोई भी बड़ा निर्णय लेने से रोक दिया है।

सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा कि वर्मा के खिलाफ आगे कोई भी निर्णय सीबीआई निदेशक का चयन एवं नियुक्ति करने वाली उच्चाधिकार प्राप्त समिति द्वारा लिया जाएगा। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति संजय किशन कौल और न्यायमूर्ति केएम जोसेफ की पीठ ने आलोक वर्मा तथा गैर सरकारी संगठन कामन काज आदि की याचिकाओं पर सुनवाई की थी।

Citizenship Amendment Bill 2019 : नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 लोकसभा में पारित

इस प्रकरण में हालांकि प्रधान न्यायाधीश ने फैसला लिखा परंतु वह न्यायालय में उपस्थित नहीं थे। अत: यह फैसला न्यायमूर्ति कौल और न्यायमूर्ति जोसेफ ने सुनाया। पीठ ने अपने फैसले में कहा कि उच्चाधिकार प्राप्त समिति केन्द्रीय सतर्कता आयोग की जांच के नतीजों के आधार पर निर्णय लेगी। उसने कहा कि एक हफ्ते के भीतर समिति की बैठक बुलाई जाए।

आपको बता दें कि वर्मा और सीबीआई के विशेष निदेशक राकेश अस्थाना के एक-दूसरे पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाने के बाद उनके झगड़े के सार्वजनिक होने पर केन्द्र ने यह निर्णय लिया था। आलोक कुमार वर्मा का केन्द्रीय जांच ब्यूरो के निदेशक के रूप में दो वर्ष का कार्यकाल 31 जनवरी को पूरा हो रहा है।

सवर्ण आरक्षण: अरुण जेटली ने कांग्रेस समेत सभी विपक्षी दलों से मांगा समर्थन

राव की नियुक्ति रद्द

पीठ ने इसके साथ ही वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी एम नागेश्वर राव की सीबीआई के अंतरिम प्रमुख के तौर पर नियुक्ति रद्द की। न्यायालय ने केन्द्र के 23 अक्टूबर को सीबीआई प्रमुख के तौर पर वर्मा के अधिकार वापस लेने और उन्हें छुट्टी पर भेजने के फैसले को रद्द कर दिया।

जेटली बोले- सीवीसी की सिफारिश पर

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मंगलवार को कहा कि सीबीआई के दो वरिष्ठ अधिकारियों को छुट्टी पर भेजने का सरकार का निर्णय केंद्रीय सतर्कता आयोग की अनुशंसा पर लिया गया था। उन्होंने इस कार्रवाई को पूरी तरह वैध बताया।

अयोध्या विवाद: 5 जजों की बेंच 10 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट में करेगी सुनवाई

राफेल का सच पीएम मोदी को बर्बाद कर देगा

सुप्रीम कोर्ट द्वारा आलोक वर्मा को सीबीआई निदेशक के पद पर मंगलवार को बहाल किए जाने की पृष्टभूमि में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट पर दावा किया कि राफेल मामले का सच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘बर्बाद कर देगा'। उन्होंने कहा, पता नहीं कब 30,000 करोड़ रुपये की चोरी में उनकी भूमिका को लेकर पूरा सबूत सामने आ जाए?

उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री मोदी को राफेल मामले की जांच से कोई नहीं बचा सकता। एक दिन पूरे देश को पता चलेगा कि मोदी ने 30 हजार करोड़ रुपए अपने ‘मित्र' अनिल अंबानी को दे दिए।

Next Story
Share it
Top