Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कावेरी विवादः बेंगलुरु में 25 बसें जलाई, धारा 144 लागू

शहर में 15 हजार जवानों को तैनात किया गया है।

कावेरी विवादः बेंगलुरु में 25 बसें जलाई, धारा 144 लागू
नई दिल्ली. कावेरी के पानी पर विवाद को लेकर कर्नाटक और तमिलनाडु के बीच तनाव बढ़ गया है। सोमवार को दोनों राज्यों में एक दूसरे के नागरिकों और उनकी संपत्तियों को निशाना बनाया गया। बेंगलुरु में प्रदर्शनकारियों ने 25 बसों में आग लगा दी। हालात बिगड़ते देख कई इलाकों में धारा 144 लगा दी गई। शहर में 15 हजार जवानों को तैनात किया गया है। प्रदर्शनकारियों ने तमिलनाडु के नंबर प्लेट वाली गाड़ियों को निशाना बनाया। पुलिस ने 200 लोगों को गिरफ्तार किया है।

मैसूर और बेंगलुरु में सोमवार को तमिलनाडु के लोगों की दुकानों और गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई। प्रदर्शनकारियों ने कई गाड़ियों को आग भी लगा दी। दुकानों को जबरन बंद करवा दिया। कर्नाटक सरकार ने राज्य की सीमा पर चौकसी बढ़ा दी है। पूरे बेंगलुरु के स्कूल और कॉलेज में छुट्टी कर दी गई।

कर्नाटक के गृहमंत्री जी. परमेश्वर ने बताया कि हालात पर काबू पाने के लिए सीआरपीएफ, आरपीएफ, सीआइएसएफ को तैनात किया गया है। इसके अलावा 20 हजार होमगार्ड और 185 केएसआरपी पल्टून्स सड़कों पर उतारी गई हैं।
भास्कर
की रिपोर्ट के अनुसार, मुख्यमंत्री एस. सिद्धारमैया ने कहा कि राज्य में रह रहे तमिल कम्युनिटी को पूरी सिक्युरिटी दी जाएगी। इसके लिए तमिल बहुल इलाकों में ज्यादा जवान तैनात किए गए हैं। सीएम ने मंगलवार को कैबिनेट की बैठक बुलाई है।

चेन्नई में होटल पर हमला
चेन्नई में सोमवार की सुबह न्यू वुडलैंड्स होटल पर कथित तौर पर एक तमिल संगठन द्वारा हमला किया गया। हमलावरों ने होटल की खिड़कियों के शीशे तोड़े और कुछ स्लिप्स भी छोड़ीं। जिसमें लिखा गया था कि अगर कर्नाटक में तमिल लोगों पर हमला किया गया, तो इसका बदला लिया जाएगा। इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के मुताबिक, कर्नाटक से आने वाले टूरिस्ट्स वाहनों को निशाना बनाया गया। हालात बिगड़ता देख सीएम जयललिता ने एक इमरजेंसी मीटिंग की। कन्नड़ स्कूल की आधे दिन बाद छुट्टी कर दी गई।

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को कर्नाटक से 20 सिंतबर तक तमिलनाडु के लिए कावेरी नदी का 12 हजार क्यूसेक पानी छोड़ने का आदेश दिया है। कोर्ट ने इससे पहले के आदेश में हालांकि कर्नाटक को 15 हजार क्यूसेक पानी छोड़ने को कहा था।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top