Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कानून व्यवस्था के मोर्चे पर घिरी यूपी सरकार, बढ़ा महिला अपराध

कैग के मुताबिक यूपी में महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों में 61 प्रतिशत की बढ़ोतरी

कानून व्यवस्था के मोर्चे पर घिरी यूपी सरकार, बढ़ा महिला अपराध

लखनऊ. भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) ने कानून एवं व्यवस्था के मोर्चे पर घिरी यूपी की अखिलेश सरकार के खिलाफ विपक्षी दलों के हमले को अपनी इस रिपोर्ट के साथ नई धार दे दी है कि प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों में तेज बढ़ोतरी हुई है।

विस में मंगलवार को 31 मार्च 2015 को समाप्त हुए वर्ष के लिए प्रस्तुत कैग की रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्ष 2010-11 से लेकर 2014-15 के बीच प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों में 61 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है।

आगामी विस चुनाव के मद्देनजर प्रदेश में सत्तारूढ़ सपा के लिए कैग की यह रिपोर्ट परेशानी पैदा करने वाली हो सकती है, क्योंकि मार्च 2012 से वही सरकार में है।

31 मार्च 2015 को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष को लेकर कराये गए सर्वेक्षण में सेक्सरेशियों के भी गिरने की बात सामने आई है। 2011 में जहां हर 1000 पुरुषों पर 908 महिलाएं थी। वहीं 2015 में 1000 पुरुषों पर महिलाओं की संख्‍या घटकर 883 पर आ गई है।

इसी के साथ ही प्रदेश में जननी सुरक्षा योजना के तहत संस्थागत प्रसव के मामलों में भी ज्यादा सुधार नहीं हुआ है। पिछले तीन वर्षों से लगातार स्थिति स्थिर है और अभी भी 42 फीसदी प्रसव अस्पतालों में नहीं हो रहा है।

प्रधान महालेखाकार पी.के.कटारिया ने कहा है कि ये रिपोर्ट भारत सरकार के नियन्त्रक महालेखा परीक्षक की ओर से विधानसभा के पटल पर रखी गई और राज्य सरकार को इन 11 योजनाओं के क्रियान्वयन की प्रगति को लेकर सुझाव भी दिए गए हैं।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top