logo
Breaking

जीएसटी काउंसिल मीटिंग: इतने Items पर घटी GST

जीएसटी काउंसिल मीटिंग में वित्त मंत्री ने बड़ा फैसला लेते हुए कुल 23 वस्तुओं और सेवाओं से रेट में कटौती करने का ऐलान किया है। कर दर में संशोधन का यह निर्णय आगामी नव-वर्ष 1 जनवरी 2019 से प्रभावी होगा।

जीएसटी काउंसिल मीटिंग: इतने Items पर घटी GST

जीएसटी काउंसिल मीटिंग (Gst Council Meeting) के बाद शनिवार को आम लोगों को राहत देते हुए टीवी स्क्रीन, सिनेमा के टिकट और पावर बैंक सहित विभिन्न प्रकार की 23 वस्तुओं पर वस्तु एवं सेवा कर (Goods And Services Tax) की दरों में कमी की घोषणा की। कर दर में संशोधन का यह निर्णय आगामी नव-वर्ष 1 जनवरी 2019 (1 January 2018) से प्रभावी होगा। जीएसटी परिषद (GST Council) की 31वीं बैठक के बाद यहां वित्त मंत्री अरूण जेटली (Finance Minister Arun Jaitley) ने इन फैसलों की घोषणा की। वित्त मंत्री (Finance Minister) ने बड़ा फैसला लेते हुए 23 सामानों पर जीएसटी की दरें (GST Rates) घटा दी। अरुण जेटली (Arun Jaitley) ने कहा कि विभिन्न प्रकार की वस्तुओं पर जीएसटी दरें (GST Rate) कम करने से सालाना राजस्व में 5,500 करोड़ रुपये का असर पड़ेगा।

ये रखी गई जीएसटी दर (GST Rate)

जीएसटी काउंसिल की बैठक में 7 आइटम्स पर दरें 28 फीसदी से घटाकर 18 फीसदी करने का फैसला लिया गया है। इसके अलावा 26 आइटम ऐसे हैं जिन पर जीएसटी रेट 18 फीसदी से घटाकर 12 या 5 फीसदी कर दिया गया है। जेटली ने कहा कि 28 फीसदी स्लैब से 6 प्रोडक्ट कम हुए हैं। एसी और डिश वॉशर 28 फीसदी जीएसटी के दायरे में लाए गए हैं।

GST In Hindi : जानें जीएसटी यानी 'वस्तु एवं सेवा कर' से जुड़ी सारी बातें

कुछ उत्पाद होंगे सस्ते, कुछ यथावत

जीएसटी काउंसिल की अहम बैठक में 28 फीसदी की ऊंची स्लैब में शामिल 33 में से 7 उत्पादों को 18 फीसदी स्लैब में लाने का फैसला लिया गया है। इस फैसले से अब मोटर व्हीकल पार्ट्स, टीवी, कंप्यूटर और टायर समेत कई चीजें सस्ती हो जाएगी। अभी 28% जीएसटी स्लैब में 28 वस्तुएं हैं। इनमें सीमेंट के अलावा वाहन, ऑटोमोबाइल पार्ट्स, याट, एयरक्राफ्ट, कोल्ड ड्रिंक्स, तंबाकू, सिगरेट और पान मसाला जैसी वस्तुएं शामिल हैं।

जीएसटी काउंसिल मीटिंग: मोदी सरकार का नए साल पर बड़ा तोहफा, ये चीजें हुई सस्ती

इनमें की गईं दर कम

इसके अलावा 32 इंच के टीवी पर दरें 28 फीसदी से घटाकर 18 फीसदी कर दी हैं। 100 रुपये तक की सिनेमा टिकट पर अब 18 फीसदी के मुकाबले 12 फीसदी लगेगा। धार्मिक हवाई यात्रा पर दरें 18 फीसदी से घटाकर 12 फीसदी की गई है। वहीं, थर्ड पार्टी मोटर इश्योरेंस प्रीमियम पर जीएसटी 18 फीसदी से घटा कर 12 फीसदी पर लाई गई है।

जीएसटी काउंसिल की 31वीं बैठक, जानिए क्या सस्ता हुआ और क्या महंगा

रिटर्न दाखिल करने की प्रणाली 1 जनवरी से

जीएसटी रिटर्न दाखिल करने की नई प्रणाली एक जनवरी 2019 से लागू होगी। इसके अलावा सरकार ने कारोबारियों को बड़ी राहत दी है। सरकार ने 31 मार्च तक जीएसटी रिटर्न फाइल करने वालों पर कोई जुर्माना नहीं लगाने का फैसला किया है।

जीएसटी काउंसिल : इन 23 चीजों पर कम हुआ टैक्स स्लैब, यह सामान हुआ महंगा

अगली बैठक में और होंगे निर्णय

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि जीएसटी काउंसिल की अगली बैठक अब जनवरी में होगी। इस बैठक में निर्माणाधीन मकानों पर लगने वाले जीएसटी को 12 प्रतिशत से घटाने पर विचार होगा। दरें घटाने के बाद राजस्व पर 5500 करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा।

डेढ़ साल में 198 वस्तुएं 28प्रश टैक्स स्लैब से बाहर

1 जुलाई 2017 से जीएसटी लागू हुआ तो 28प्रश टैक्स स्लैब में 226 वस्तुएं थीं। डेढ़ साल में इनमें से 198 वस्तुओं पर टैक्स कम किया गया है। अभी 28प्रश जीएसटी स्लैब में 28 वस्तुएं हैं। इनमें सीमेंट के अलावा वाहन, ऑटोमोबाइल पार्ट्स, याट, एयरक्राफ्ट, कोल्ड ड्रिंक्स, तंबाकू, सिगरेट और पान मसाला जैसी वस्तुएं शामिल हैं।

इनकी कीमतों पर हुई गिरावट

टायर, लिथियम आयन बैट्री वाले पावर बैंक, वीसीआर, 32 इंच तक के टीवी, बिलयर्डस और स्नूकर, डिजिटल कैमरा और वीडियो कैमरा रिकॉर्डर, वीडियो गेम कंसोल और एचएस कोड 9504 के तहत आने वाले गेम से जुड़ी अन्य वस्तुओं पर, एचएस कोड 8483 के तहत आने वाली पुली, ट्रांसमिशन शाफ्ट और क्रैंक, गियर बॉक्स इत्यादि पर जीएसटी 28 फीसदी से घटकर 18 फीसदी की गई है।

28 से 5 प्रतिशत

- दिव्यांगों की आवाजाही के लिए इस्तेमाल में आने वाली मशीनों के कल-पुर्जे और एक्सेसरी

18 से 12 प्रतिशत

- स्क्वायर्ड या डीबैग्ड कॉर्क

- नेचुरल कॉर्क से बनी चीजें

- एग्लोमिरेटेड कॉर्क

18 से 5 प्रतिशत

-मार्बल रबल

12 से 5 प्रतिशत

- नेचुरल कॉर्क

- वॉकिंग स्टिक

- फ्लाइआश की ईंटें

12 प्रतिशत से शून्य

-म्यूजिक बुक्स

5 प्रतिशत से शून्य

-फ्रोजन वेजिटेबल्स

Loading...
Share it
Top