Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बजट 2019 : ये है भारत की इकलौती महिला वित्त मंत्री, ऐसे वक्त में पेश किया था बजट

देश का बजट एक फरवरी 2019 दिन शुक्रवार को संसद के लोकसभा में वित्त मंत्री पीयूष गोयल द्वारा पेश किया जाएगा। लेकिन क्या आप जानते हैं कि भारत की पहली महिला वित्त मंत्री कौन थीं।

बजट 2019 : ये है भारत की इकलौती महिला वित्त मंत्री, ऐसे वक्त में पेश किया था बजट
X
देश का बजट एक फरवरी 2019 (Budget 1 February) दिन शुक्रवार को संसद (Parliament) के लोकसभा (Lok Sabha) में वित्त मंत्री पीयूष गोयल (Finance Minister Piyush Goyal) द्वारा पेश किया जाएगा। बजट सत्र 31 जनवरी से शुरू होकर 13 फरवरी तक चलेगा। यहां हम बात कर रहे हैं कि भारत के इतिहास में वो कौन सी महिला है जिनके नाम पहली बार बजट पेश करने का रिकॉर्ड दर्ज है। 26 जून 1975 को तत्कालीन इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) की सरकार ने आपातकाल लागू कर दिया था। 21 महीनों तक देश में आपातकाल लागू रहा। इंदिरा ने 25 जून और 26 जून की मध्य रात्रि को तत्कालीन राष्ट्रपति फखरुद्दीन अली अहमद के हस्ताक्षर करने के साथ ही पहली इमरजेंसी की घोषणा की थी।
इसकी जानकारी रेडियो पर इंदिरा ने खुद दी थी। जिसमें उन्होंने कहा था कि भाइयों और बहनों, राष्ट्रपति जी ने आपातकाल की घोषणा की है। इससे आतंकित होने का कोई कारण नहीं है। इस दौरान देश की पीएम इंदिरा गांधी ने संसद में बजट पेश किया था। इंदिरा देश की इकलौती महिला वित्त मंत्री हैं। जिनके नाम यह रिकोर्ड दर्ज है।
इसी दौरान पीएम इंदिरा गांधी ने विपक्ष के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की थी। उन्होंने विपक्ष के प्रमुख नेता सरकार का विरोध न कर सकें। इसलिए उन्हें जेल में भेज दिया गया। ढाई साल बाद लोकसभा चुनाव हुए तो जनता ने कांग्रेस को उसकी औकात दिखा दी।
इसी दौरान जनता पार्टी की सरकार पहली बार सत्ता में आई और मोरारजी देसाई देश के पहले गैर कांग्रेसी प्रधानमंत्री बने थे। मोरारजी देसाई नेहरु सरकार में मंत्री रह चुके थे।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story