logo
Breaking

बजट 2018ः मिडिल क्लास को मिलेगी राहत, 3 लाख तक नहीं लगेगा कोई टैक्स

इस साल 29 जनवरी से बजट सेशन शुरू होगा। इस बजट में सरकार मध्यम वर्ग के लोगों को बड़ी राहत दे सकती है। सरकार आयकर छूट की सीमा को ढाई लाख से बढ़ाकर तीन लाख कर सकती है।

बजट 2018ः मिडिल क्लास को मिलेगी राहत, 3 लाख तक नहीं लगेगा कोई टैक्स

इस साल 29 जनवरी से बजट सेशन शुरू होगा। इस बजट में सरकार मध्यम वर्ग के लोगों को बड़ी राहत दे सकती है। सरकार आयकर छूट की सीमा को ढाई लाख से बढ़ाकर तीन लाख कर सकती है। आगामी आम बजट में सरकार टैक्स छूट सीमा बढ़ाने के साथ-साथ टैक्स स्लैब में भी बदलाव कर सकती है।

इसे भी पढ़ेंः नोटबंदी के बाद होगी 'सिक्काबंदी', टकसालों में बंद हुआ सिक्के का प्रोडक्शन

सूत्रों के अनुसार, वित्त मंत्रालय के सामने व्यक्तिगत आयकर छूट सीमा को मौजूदा ढाई लाख रुपए से बढ़ाकर तीन लाख रुपए करने का प्रस्ताव है। साल 2018-19 का आम बजट मोदी सरकार के मौजूदा कार्यकाल का अंतिम पूर्ण बजट होगा।

टैक्स स्लैब में बदलाव

नौकरी करने वाले लोगों को टैक्स में बड़ी छूट मिल सकती है टैक्स स्लैब भी बदल सकता है। पांच से दस लाख रुपये की सालाना आय पर दस प्रतिशत, 10 से 20 लाख रुपये पर 20 प्रतिशत और 20 लाख रुपये से ज्यादा आय पर 30 प्रतिशत टैक्स वाला स्लैब घोषित हो सकता है।

मोदी सरकार का आखिरी बजट

साल 2018-19 का आम बजट मोदी सरकार के मौजूदा कार्यकाल का आखिरी पूर्ण बजट होगा। इस बजट में सरकार मध्यम वर्ग को, जिसमें ज्यादातर वेतन भोगी तबका आता है, बड़ी राहत देने पर सक्रियता के साथ विचार कर रही है। सरकार का इरादा है कि इस वर्ग को खुदरा मुद्रास्फीति के प्रभाव से राहत मिलनी चाहिए।

टैक्स स्लैब में संभावित बदलाव

  • 3 लाख तक- कोई टैक्स नहीं
  • 3-10 लाख तक-10%
  • 10-20 लाख तक-20%
  • 20-30 लाख तक-30%

मौजूदा इनकम टैक्स स्लैब

  • 2.5 लाख तक- कोई टैक्स नहीं
  • 2.5-5 लाख तक- 5%
  • 5-10 लाख तक- 20%
  • 10 लाख से ऊपर- 30%
Loading...
Share it
Top