Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बजट से पहले सरकार लेगी ये बड़े फैसले, आपकी जिंदगी पर डालेंगे असर

एयर इंडिया में विदेशी एयरलाइंस के निवेश से इसकी हालत सुधरेगी और साथ ही एयर इंडिया सेवा में सुधार होगा।

बजट से पहले सरकार लेगी ये बड़े फैसले, आपकी जिंदगी पर डालेंगे असर

केंद्र सरकार बजट पेश करने की तैयारी कर रही है। बजट पेश करने से पहले सरकार ने 5 बड़े अहम फैसले लिए हैं। ये फैसले बजट से पहले हुई कैबिनेट बैठक में बुधवार को हुए। फैसलों के तहत सिंगल ब्रांड रिटेल ट्रेडिंग में ऑटोमैटिक रूट के तहत 100 फीसदी एफडीआई और ऑटोमैटिक रूट के तहत कंस्ट्रक्शन सेक्टर में भी 100 फीसदी एफडीआई का ऐलान किया है।

एयर इंडिया के विनिवेश में विदेशी कंपनियों को 49 फीसदी हिस्सेदारी लेने की छूट भी दे दी है। इसके साथ ही कई मेडिकल डिवाइस में भी 100 फीसदी एफडीआई को मंजूरी दे दी गई है। केंद्र सरकार ने विदेशी संस्थागत निवेशकों और विदेशी पोर्टफोलियो इन्वेस्टर को प्राइमरी मार्केट के तहत पावर एक्सचेंज में निवेश की मंजूरी दे दी है।
विदेश एयरलाइंस अब एयर इंडिया में निवेश कर सकेंगी। इससे सरकार को कर्ज में डूबी एयर इंडिया को बेचने में आसानी होगी।
एयर इंडिया में विदेशी एयरलाइंस के निवेश से इसकी हालत सुधरेगी और साथ ही एयर इंडिया सेवा में सुधार होगा। यात्रियों को बेहतर सुविधाएं मिलेंगी।
कंस्ट्रक्शन में एफडीआई
कंस्ट्रक्शन सेक्टर में 100 फीसदी विनिवेश को मंजूरी दे दी गई है। यह निवेश रियल इस्टेट ब्रोकिंग बिजनेस में दिया गया है। इससे पहले तो देश में निवेश बढ़ेगा और इसके साथ ही असंगठित रियल इस्टेट सेक्टर को संगठित करने में मदद मिलेगी।

बढ़ेंगे रोजगार के मौके
रियल इस्टेट ब्रॉकिंग सर्विस में एफडीआई को मंजूरी मिलने से फायदा ये होगा कि विदेशी कंपनियां भारत में कंसल्टंसी फर्म शुरू करेंगी। इससे भारत में रोजगार के मौके बढ़ेंगे।

रिटेल सेक्टर में एफडीआई
सिंगल ब्रांड रिटेल ट्रेडिंग में भी ऑटोमैटिक रूट के जरिए 100 फीसदी एफडीआई को मंजूरी दे दी है। इस छूट के मिलने से अंतरराष्ट्रीय रिटेल चेन भारत में अपने वेंचर खोल सकेंगी। इससे रिटेल सेक्टर में कॉम्पटीशन बढ़ेगा।
देश में अंतरराष्ट्रीय रिटेल चेन के आने से न सिर्फ निवेश बढ़ेगा बल्कि देश में नई तकनीक भी आएगी। इसके साथ ही रोजगार के भी मौके मिलेंगे
मोदी सरकार ने कई मेडिकल डिवाइस में भी ऑटोमैटिक रूट के जरिए 100 फीसदी एफडीआई को मंजूरी दी है। कयास लगाए जा रहे हैं कि इससे बेहतर मेडिकल डिवाइस और तकनीक देश में आएगी।
पावर एक्सचेंज
पावर एक्सचेंज पर बिजली की खरीद-बिक्री की ऑनलाइन ट्रेंडिंग होती है। इसमें भी सरकार ने ऑटोमैटिक रूट से 49 फीसदी एफडीआई को मंजूरी दी है। इस फैसले से देश में निवेश बढ़ेगा और पावर एक्सचेंज सिस्टम भी मजबीत बनेगा।
Next Story
Share it
Top