Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बजट 2018-19: खाद्य-पेट्रोलियम सब्सिडी 15 प्रतिशत बढ़कर 2.6 लाख करोड़ रुपये पहुंचेगी!

संसद में पेश 2018-19 के बजट में खाद्य, उर्वरक और पेट्रोलियम सब्सिडी का बोझ इससे पिछले वर्ष के मुकाबले 15 प्रतिशत बढ़कर 2,64,336 करोड़ रुपये होने का अनुमान रखा गया है।

बजट 2018-19: खाद्य-पेट्रोलियम सब्सिडी 15 प्रतिशत बढ़कर 2.6 लाख करोड़ रुपये पहुंचेगी!

संसद में पेश 2018-19 के बजट में खाद्य, उर्वरक और पेट्रोलियम सब्सिडी का बोझ इससे पिछले वर्ष के मुकाबले 15 प्रतिशत बढ़कर 2,64,336 करोड़ रुपये होने का अनुमान रखा गया है। पिछले वित्त वर्ष यानी 2017-18 में इन तीनों मद में सब्सिडी का संशोधित अनुमान 2,29,716 करोड़ रुपये रहा है। वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा आज लोकसभा में पेश 2018-19 के बजट में खाद्य सब्सिडी के अनुमान को चालू वित्त वर्ष के 1,40,282 करोड़ रुपये के संशोधित अनुमान से बढ़ाकर 1,69,323 करोड़ रुपये रखा गया है।

यह भी पढ़ें- Aam Budgut 2018-19: किसी को उम्मीद से अधिक तो किसो को उम्मीद से कम, जानिए किसको क्या मिला

इसी प्रकार उर्वरक सब्सिडी को इस वित्त वर्ष के 64,974 करोड़ रुपये के संशोधित अनुमान से बढ़ाकर 70,080 करोड़ रुपये किया गया है। पेट्रोलियम पदार्थेां पर दी जाने वाली सब्सिडी भी मामूली बढ़कर चालू वित्त वर्ष के 24,460 करोड़ रुपये के संशोधित अनुमान से बढ़कर 24,933 करोड़ रुपये होने का अनुमान लगाया गया है। उर्वरक सब्सिडी में सरकार ने यूरिया क्षेत्र के लिये 44,989.5 करोड़ रुपये की सब्सिडी होगी। चालू वित्त वर्ष के दौरान यह राशि 42,721 करोड़ रुपये रखी गई थी।

यह भी पढ़ें- अरुण जेटली पकौड़ा उद्योग के लिए बजट लाने में जुटे हैं, उधर अजमेर-अलवर में BJP की लुटिया डूब रही है: राहुल गांधी

इसी प्रकार पोषण आधारित फास्फेटिक और पोटास्कि (पी एण्ड के) उर्वरकों के लिये सब्सिडी को चालू वित्त वर्ष के 22,251.8 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 25,090.35 करोड़ रुपये करने का प्रावधान किया गया है। पेट्रोलियम उत्पादों के मामले में 24,933 करोड़ रुपये की सब्सिडी में से 20,377.80 करोड़ रुपये एलपीजी के लिये और 4,555 करोड़ रुपये केरोसिन के लिये रखे गये हैं। संशोधित अनुमान के अनुसार 2017-18 में एलपीजी सब्सिडी 15,656.33 करोड़ रुपये और केरोसिन सब्सिडी 8,804.15 करोड़ रुपये रही।

Share it
Top