Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

BSF की फायरिंग में अब तक 15 पाक रेंजर्स हुए ढेर

जवाबी कार्रवाई में बीएसएफ ने पाकिस्तान की कई चौकियां तबाह कर दी हैं

BSF की फायरिंग में अब तक 15 पाक रेंजर्स हुए ढेर
जम्मू. पाकिस्तान लगातार अपने नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है और सीमा पर लगातार सीजफायरिंग किए जा रहा है। जिसकी उसे कीमत भी चुकानी पड़ रही है। भारतीय सेना लगातार पाकिस्तानी रेंजर्स की फायरिंग का जवाब दिए जा रही है।
टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, बीएसएफ की ओर से बड़ा बयान आया है। बीएसएफ के एडीजी अरुण कुमार ने बताया, ”पिछले एक हफ्ते में पाकिस्तानी रेंजर्स के कम से कम पंद्रह जवान मारे गए हैं।” बीएसएफ ने यह भी बताया कि पाकिस्तानी रेंजर्स की वर्दी में पाक सेना के होने की भी आशंका है।
अरुण कुमार ने कहा, ”पाकिस्तान की ओर से सीमा पर कई सेक्टर्स पर गोलीबारी जारी है जिसका हमारी ओर से माकूल जवाब दिया जा रहा है। भारत की ओर से किसी भी प्रकार से फायरिंग को बढ़ावा नहीं दिया गया है।”
पाकिस्तान पर ये जवाबी कार्रवाई गुरुवार से बीएसएफ के जवान के शहीद होने और छह आम नागरिकों के घायल होने के बाद की गयी है। जानकारी के मुताबिक बॉर्डर पर रात भर फायरिंग होती रही और अब भी हो रही है। सांबा, हीरानगर, कठुआ में सुबह 5 बजे तक फायरिंग हुई, साथी ही एलओसी पर भी रात में फायरिंग हुई।
जवाबी कार्रवाई में बीएसएफ ने पाकिस्तान की कई चौकियां तबाह कर दी हैं। इस जवाबी गोलीबारी में अब तक 15 पाक रेंजर्स मारे गए हैं। बीएसफ की जवाबी कार्रवाई से पाकिस्तान के शक्क्करगढ़ इलाके में भारी नुकसान हुआ है। पाकिस्तान के दर्जनों मोर्चे तबाह, कई वॉच टॉवर गिरे हैं।
भारत की तरफ से एक बच्ची मामूली रूप से घायल हुई हैं। पाकिस्तानी जवानों ने राजौरी जिले के सुंदरबनी सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर संघषर्विराम का उल्लंघन भी किया। एजेंसी के मुताबिक, बीएसएफ के एक अधिकारी ने बताया, ‘‘पाकिस्तान ने बहुत भारी गोलीबारी की जिसका करारा जवाब दिया जा रहा है।’’
इससे पहले, कल जम्मू जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा से लगे आरएस पुरा और अरनिया सेक्टरों में पाकिस्तानी सैनिकों की तरफ से संघर्ष विराम का उल्लंघन कर 15 से अधिक सीमा चौकियों और 29 बस्तियों पर मोर्टार बमों और अत्याधुनिक हथियारों से की गयी भारी गोलीबारी में बीएसएफ का जवान शहीद हो गया और छह अन्य लोग घायल हो गये।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर -
Next Story
Top