Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Bogibeel Bridge का उद्घाटन करने के बाद बोले PM मोदी- ब्रिज से असम-अरुणाचल की दूरी सिमटी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के सबसे लंबे रेल-रोड पुल का असम में उद्घाटन कर दिया है। ब्रह्मपुत्र नदी पर बोगीबील में बने 4.94 किलोमीटर लंबे और रणनीतिक दृष्टि से महत्त्वपूर्ण यह पुल न केवल आम लोगों के अलावा रक्षा मोर्चे पर भी अहम भूमिका निभाएगा।

Bogibeel Bridge का उद्घाटन करने के बाद बोले PM मोदी- ब्रिज से असम-अरुणाचल की दूरी सिमटी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम में बने भारत के सबसे लंबे रेल-रोड पुल का मंगलवार को उद्घाटन कर दिया है। ब्रह्मपुत्र नदी पर बोगीबील में बने 4.94 किलोमीटर लंबे और रणनीतिक दृष्टि से महत्त्वपूर्ण यह पुल न केवल आम लोगों के लिए अपितु रक्षा मोर्चे पर भी अहम भूमिका निभाएगा। यह बोगीबील पुल, असम समझौते का हिस्सा रहा है।

लाइव अपडेट..

* चार साल पहले कोई नहीं सोच सकता था कि हेलीकॉप्टर घोटाले का सबसे बड़ा राजदार भारत आ पाएगा। लेकिन इस राजदार को भारत लाने का काम भी हमारी ही सरकार ने किया है।

* एक तरफ हमारी सरकार, आयुष्मान भारत योजना के तहत गरीबों को 5 लाख रुपए तक के मुफ्त इलाज की सुविधा दे रही है, तो वहीं दूसरी तरफ मेडिकल सेक्टर में भ्रष्टाचार खत्म करने के लिए भी सख्त कदम उठा रही है।

* एक तरफ हमारी सरकार ने नौजवानों को सिर्फ एक दिन में नई कंपनी के रजिस्ट्रेशन की सुविधा दी है, तो दूसरी तरफ भ्रष्टाचार की बहुत बड़ी जड़ मानी जाने वाली सवा तीन लाख से ज्यादा संदिग्ध कंपनियों का रजिस्ट्रेशन रद्द भी किया है।

* एक तरफ हमारी सरकार प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सवा करोड़ से ज्यादा गरीबों को घर दे चुकी है, वहीं बेनामी संपत्ति कानून के तहत भ्रष्टाचारियों के 5 हजार करोड़ रुपए के बंगले और गाड़ियों को जब्त किया जा चुका है।

* पिछले चार साढ़े चार साल से हमारी सरकार जहां एक तरफ गरीब को अधिकार दिला रही है वहीं कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ पूरी ताकत से लड़ाई लड़ रही है।

* पहले एक स्थिति थी जब यहां टी गार्डन में काम करने वाले बहन-भाईयों के बैंक खाते ही नहीं थे। जनधन योजना के तहत 7 लाख कामगार बहन-भाईयों के बैंक अकाउंट खुलवाए गए हैं। अगर मैं पूरे असम की बात करूं, तो राज्य में करीब डेढ़ करोड़ जनधन खाते हमारी सरकार ने ही खुलवाए हैं।

* गरीब का, शोषित का, वंचित का अगर सबसे ज्यादा कोई नुकसान करता है, तो वो है भ्रष्टाचार। भ्रष्टाचार, गरीब से उसका अधिकार छीनता है, उसका जीवन मुश्किल बनाता है।

* सौभाग्य योजना के तहत बीते एक वर्ष में ही असम के 12 लाख से अधिक परिवारों को मुफ्त बिजली कनेक्शन दिया गया है। जिससे असम में बिजलीकरण का दायरा करीब 50 प्रतिशत से बढ़कर करीब 90 प्रतिशत हो चुका है।

* उज्जवला योजना के तहत करीब 24 लाख मुफ्त गैस के कनेक्शन असम गरीब बहनों को दिए जा चुके हैं। जिसका परिणाम है कि असम में साढ़े 4 वर्ष पहले तक जहां करीब 40 प्रतिशत घरों में गैस सिलेंडर था, वहीं आज ये दायरा दोगुना, करीब 80 प्रतिशत हो चुका है।

* पीएम मोदी ने कहा कि ये देश का सबसे लम्बा रेल-रोड ब्रिज है। ये देश का पहला पूरी तरह से स्टील से बना रेल-रोड ब्रिज है।

* पीएम मोदी ने कहा कि ये पुल सिर्फ एक पुल नहीं है बल्कि ये इस क्षेत्र के लाखो लोगों के जीवन को जोड़ने वाली लाइफलाइन है। इससे असम और अरुणाचल के बीच की दूरी सिमट गई है

* पीएम मोदी ने Bogibeel Bridge से गुजरने वाली पहली पैसेंजर रेलगाड़ी को भी हरी झंडी दिखा कर रवाना किया।

* पीएम मोदी ने ब्रह्मपुत्र नदी पर बने देश के सबसे बड़े रेल Bogibeel Bridge का अनावरण कर राष्ट्र को समर्पित किया।

यह पुल अरुणाचल प्रदेश में भारत-चीन सीमा पर रक्षा सेवाओं के लिए भी आड़े वक्त में खास भूमिका निभा सकता है। पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा ने 22 जनवरी, 1997 को इस पुल की आधारशिला रखी थी लेकिन इस पर काम 21 अप्रैल, 2002 को तत्कालीन अटल बिहारी वाजपेयी सरकार के समय में शुरू हो सका।

खासबात यह है कि इसका शुभारंभ 25 दिसंबर वाजपेयी की वर्षगांठ के भी दिन हुआ है। इस तरह 21 साल बाद पुल का उपयोग आम लोगों के लिए भी खोल दिया गया है।

ऐसे बढ़ती गई लागत

परियोजना में अत्यधिक देरी के कारण इसकी लागत में 85 फीसदी की बढ़ोत्तरी हो गई। शुरुआत में इसकी लागत 3230.02 करोड़ रुपए थी, जो बढ़कर 5,960 करोड़ रुपये हो गई। इस बीच पुल की लंबाई भी पहले की निर्धारित 4.31 किलोमीटर से बढ़ाकर 4.94 किलोमीटर कर दी गई।

परियोजना के रणनीतिक महत्व को देखते हुए केंद्र सरकार ने इस पुल के निर्माण को 2007 में राष्ट्रीय परियोजना घोषित किया था। इस कदम के बाद से धन की उपलब्धता बढ़ गई और काम की गति में तेजी आ गई।

पूर्वोत्तर की जीवन रेखा साबित होगा

सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि पहले ढोला-सदिया पुल और अब बोगीबील- ये दोनों भारत की रक्षा क्षमता को बढ़ाने जा रहे हैं।' पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे (एनएफआर) के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी प्रणव ज्योति शर्मा ने कहा कि चीन के साथ भारत की 4,000 किलोमीटर लंबी सीमा का लगभग 75 प्रतिशत हिस्सा अरुणाचल प्रदेश में है और यह पुल भारतीय सेना के लिए सीमा तक आवागमन में मदद करेगा।

ब्रह्मपुत्र नदी पर बोगीबील पुल असम में डिब्रूगढ़ शहर से 17 किमी दूर स्थित है और इसका निर्माण तीन लेन की सड़कों और दोहरे ब्रॉड गेज ट्रैक के साथ किया गया है। यह पुल देश के पूर्वोत्तर इलाके की जीवन रेखा होगा और असम और अरुणाचल प्रदेश के पूर्वी क्षेत्र में ब्रह्मपुत्र नदी के उत्तर और दक्षिण तट के बीच संपर्क की सुविधा प्रदान करेगा।

Next Story
Share it
Top