Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

चुनाव परिणाम: गुजरात से ''कमल'' नहीं उखड़ा, हिमाचल भी ''हाथ'' से निकला

हिमाचल में भाजपा का वोट शेयर करीब 10 फीसदी बढ़ा और कांग्रेस का करीब 1 फसीद कम हुआ।

चुनाव परिणाम: गुजरात से

कांग्रेस के हाथ से हिमाचल प्रदेश निकल गया। भाजपा ने 44 सीटों पर जीत हासिल की, लेकिन मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार प्रेम कुमार धूमल चुनाव हार गए।

राज्‍य में कांग्रेस ने 21 सीटें जीती, वहीं 3 सीटों पर अन्य ने जीत हासिल की। कांग्रेस के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार और निवर्तमान मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने अर्की विधानसभा पर अपनी प्रतिष्ठा के अनुरूप जीत दर्ज की है।

शिमला ग्रामीण सीट से उनके बेटे विक्रमादित्य सिंह जीत गए। हिमाचल में भाजपा को 48.7 जबकि कांग्रेस को 41.9 फीसदी वोट हासिल हुए।

राज्य की 68 सीटों पर 9 नवंबर को सिंगल फेज में वोट डाले गए थे। इस बार यहां 74.61 फीसदी वोटिंग हुई और 2003 का रिकॉर्ड टूट गया। तब यहां 72.61 फीसदी वोटिंग हुई थी।

बताया जाता है कि भाजपा का वोट शेयर करीब 10 फीसदी बढ़ा और कांग्रेस का करीब 1 फसीद कम हुआ। सीटों के मामले कांग्रेस को नुकसान तो भाजपा फायदा में रही।

भाजपा को पिछले विधानसभा चुनाव में 26 सीटें, वहीं कांग्रेस को पिछली बार 36 सीटें मिलीं थीं।

धूमल नहीं होंगे सीएम

अमित शाह ने सोमवार को अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस बात की तरफ इशारा किया कि चुनाव हारने वाले प्रेम कुमार धूमल को पार्टी हिमाचल का सीएम नहीं बनाएगी।

शाह से सवाल किया गया कि धूमल चुनाव हार रहे हैं। ऐसे में भाजपा क्या उन्हें सीएम बनाएगी। इस पर शाह ने कहा- जनादेश का आदर किया जाएगा।

इधर, सुजानपुर सीट पर धूमल को हराने वाले कांग्रेस कैंडिडेट राजिंदर राणा ने कहा, यह कांग्रेस पर जनता के भरोसे का संकेत है। अपनी जीत के लिए लोगों को धन्यवाद देता हूं। अब क्षेत्र की जनता की सेवा करेंगे।

केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, हम प्रेम कुमार धूमल की हार से दुखी हैं, लेकिन इस बात की खुशी है कि हिमाचल प्रदेश की जनता ने बदलाव के लिए बीजेपी को वोट किया।

हार की उम्मीद नहीं थी, धूमल

चुनाव हारने के बाद प्रेम कुमार धूमल ने कहा, व्यक्तिगत नुकसान (हार) मायने नहीं रखता। खास बात है कि बीजेपी ने हिमाचल में जीत दर्ज की।

पार्टी को वोट देने के लिए राज्य की जनता का शुक्रिया। राजनीति कोई एक जीतेगा तो दूसरा हारेगा ही, लेकिन मुझे हार की उम्मीद नहीं थी। इसके कारणों की समीक्षा करेंगे।

अहम सीटों पर कांग्रेस का कब्जा

* अर्की वीरभद्र सिंह

* सुजानपुर राजेंद्र राणा

* शिमला ग्रामीण विक्रमादित्य सिंह

* पालमपुर आशीष बुटेल

Next Story
Share it
Top