logo
Breaking

भाजपा मिशन 2019: जानिए क्या है ''01 बूथ - 10 यूथ''

छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान में विधानसभा चुनाव के साथ ही 2019 के लोकसभा चुनावों के लिए भाजपा अपनी चुनावी तैयारी का बिगुल बजा चुकी है।

भाजपा मिशन 2019: जानिए क्या है

छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान में विधानसभा चुनाव के साथ ही 2019 के लोकसभा चुनावों के लिए भाजपा अपनी चुनावी तैयारी का बिगुल बजा चुकी है। इसकी शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से हुई है।

चुनाव में नौजवानों को जोड़ने के लिए भाजपा ने शनिवार को वाराणसी में युवा उद्घोष कार्यक्रम किया है। जिन लोगों को युवा उद्घोष कार्यक्रम में बुलाए गया वो सभी नौजवान हैं जिनकी उम्र 18 से 35 साल के बीच है। वाराणसी में 1736 बूथ हैं। हर बूथ से कम से कम दस नौजवानों को बुलाया गया था।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भारत माता की जय के साथ वाराणसी से मिशन 2019 की शुरुआत की। अमित शाह ने इन नौजवानों को पार्टी से जुड़ने के बदले पीएम बनने तक के सपने दिखाए।

उन्होंने ये भी कहा कि हमने अपना करियर भी बूथ अध्यक्ष से शुरू किया था। युवा उद्घोष के बहाने भाजपा की कोशिश देश भर के नौजवानों को पार्टी से जोड़ने की है। युवा उद्घोष रैली के साथ ही 2019 के चुनाव के लिए पार्टी ने हिंदुत्व का अपना एजेंडा भी साफ कर दिया है।

18 से 35 साल के नौजवान

युवा उद्घोष के लिए भाजपा ने जानबूझ कर मोदी के वाराणसी को चुना। 1 जनवरी 2018 तक 18 साल पूरा करने वाले युवाओं को वोटर बनाने के लिए भाजपा मिलेनियम अभियान भी चला रही है। देश की आधी आबादी 25 साल के नौजवानों की है, जबकि 65 फीसदी आबादी 35 साल तक के उम्र के लोगों की है। देश का युवा जिस पार्टी के साथ होगा, अगले लोकसभा चुनाव में जीत उसी की होगी।

Loading...
Share it
Top