Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आजादी के बाद हमसे अधिक किसी ने नहीं दिया बलिदानः मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि भाजपा ने किसी भी अन्य दल से अधिक बलिदान दिया है।

आजादी के बाद हमसे अधिक किसी ने नहीं दिया बलिदानः मोदी
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ब्रिटिश शासनकाल के दौरान कांग्रेस ने जितनी परेशानियां झेली होंगी, भाजपा को आजाद भारत में उससे कहीं अधिक दुश्वारियों का सामना करना पड़ा है। उन्होंने इस बात पर अफसोस जाहिर किया कि उनकी पार्टी के हर प्रयास को गलत रूप में देखा जा रहा है।
प्रधानमंत्री मोदी ने यह बात यहां दीनदयाल उपाध्याय मार्ग पर भाजपा के नए मुख्यालय के भूमि पूजन समारोह में आधारशिला रखने के बाद कही। मोदी ने कहा कि ब्रिटिश शासनकाल में भी कांग्रेस ने इतनी मुश्किलों का सामना नहीं किया होगा जितनी मुश्किलों का सामना हमारे सर्मपित कार्यकर्ताओं ने 50-60 साल में किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने किसी भी अन्य दल से अधिक बलिदान दिया है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आजादी के बाद किसी पार्टी ने हमसे (भाजपा से) अधिक बलिदान नहीं दिए होंगे।
उन्होंने कहा कि उनके सैंकड़ों कार्यकर्ता मारे गए क्योंकि वे उस समय चलन में रही विचारधारा से जुड़े हुए नहीं थे। सबका साथ, सबका विकास के मकसद के साथ सबको साथ लेकर चलने की अपनी पार्टी की प्रतिबद्धता को रेखांकित करते हुए उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से देश और विश्व लोकतंत्र के समक्ष यह उदाहरण पेश करने को कहा कि किस प्रकार आदशरें को सर्मपित तथा वंशवाद से मुक्त एक दल काम करता है क्योंकि दुनिया भगवा संगठन को उस तरीके से नहीं जानती है जिस तरीके से जानना चाहिए बल्कि उसको जानना सुनी सुनाई गई बातों पर आधारित है। भाजपा एकमात्र ऐसी पार्टी होगी जिसने अपने गठन के समय से ही दुश्वारियां झेली हैं। इसने हर मोड़ पर मुश्किलों का सामना किया और उसके हर प्रयास को गलत तरीके से देखा गया।
प्रधानमंत्री ने कहा कि जब भाजपा का पूर्व संगठन जनसंघ 1969 में मध्य प्रदेश में सत्ता में आया, तो वैश्विक शोध संगठनों ने जनसंघ पर अध्ययन शुरू कर दिया। उन्होंने कहा कि जब वाजपेयी जी की सरकार बनी तो विश्व एक बार फिर से चकित रह गया, कि हमने कितनी प्रगति कर ली है। उन्होंने लोगों से हमारे बारे में जानने का प्रयास किया और इसलिए वे कभी हमें सही से नहीं जान पाए। विश्व की जिज्ञासा अब फिर से उभरी है। पार्टी के नेताओं से जुड़ी महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में फोटोग्राफ जैसी रिकार्डिड सामग्री के अभाव के बारे में उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि संगठन की गतिविधियों से जुड़ी हर बात को रिकार्ड किया जाए। समारोह में भाजपा प्रमुख अमित शाह, वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, राजनाथ सिंह, अरूण जेटली तथा अन्य नेताओं ने भी पार्टी के बलिदान का जिक्र किया।
मोदी ने तृणमूल कांग्रेस पर परोक्ष हमला बोलते हुए कहा कि हालिया पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के दौरान एक भाजपा उम्मीदवार के लिए कोलकाता में कार्यालय तक किराये पर लेना मुश्किल था क्योंकि उन्हें जगह देने के इच्छुक व्यक्ति को मुश्किलें झेलनी पड़तीं ।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top