Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बीकानेर लैंड स्कैम: रॉबर्ट वाड्रा की बढ़ी मुश्किलें, बीकानेर भूमि घोटाले में दो लोग गिरफ्तार

ईडी की यह जांच कुछ साल पहले राजस्थान में बीकानेर जिले के कोलायत क्षेत्र में कंपनी द्वारा कथित रूप से 275 बीघा जमीन खरीदे जाने से जुड़ी है।

बीकानेर लैंड स्कैम: रॉबर्ट वाड्रा की बढ़ी मुश्किलें, बीकानेर भूमि घोटाले में दो लोग गिरफ्तार

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा एक बार फिर सुर्खियों में हैं। प्रवर्तन निदेशालय 'ईडी' ने शुक्रवार को बीकानेर जमीन घोटाले से जुड़े धन शोधन मामले की जांच के संबंध में दो लोगों को गिरफ्तार किया है।

ईडी द्वारा गिरफ्तार किेए गए दोनों लोगों की पहचान एजेंसी ने जयप्रकाश भगार्वा और अशोक कुमार के रूप में जाहिर की है।

यह भी पढ़ें- हिमचल: सीएम को लेकर घमासान, धूमल-जयराम समर्थकों ने की जमकर नारेबाजी

बता दें कि ईडी ने कहा कि जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है, उनमें अशोक कुमार स्‍काइलाइट हॉस्पिटलिटी प्राइवेट लिमिटेड के महेश नागर के करीबी सहयोगी हैं। उन्‍हें धन शोधन रोकथाम अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया गया।

स्काईलाइट हॉस्पिटैलिटी फर्म रॉबर्ट वाड्रा से जुड़ी है

आरोप है कि स्काईलाइट हॉस्पिटैलिटी फर्म पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा से जुड़ी है। एजेंसी ने कुमार और नागर के घरों पर इसी वर्ष अप्रैल में छापेमारी की थी।

यह भी पढ़ें- भारत में दिल्ली की मेट्रो जैसी 'स्वदेशी ट्रेन' अब पटरी पर दौड़गी, ये हैं खासियत

एजेंसी का कहना है कि इस फर्म द्वारा बीकानेर में जमीन खरीद के चार मामलों में आधिकारिक प्रतिनिधि नागर ही था। कुमार ने अन्य लोगों की पावर ऑफ अटॉर्नी का यूज कर इसी क्षेत्र में ज़मीन खरीदी थी।

आपको बता दें कि ईडी की यह जांच कुछ साल पहले राजस्थान में बीकानेर जिले के कोलायत क्षेत्र में कंपनी द्वारा कथित रूप से 275 बीघा जमीन खरीदे जाने से जुड़ी है।

ईडी ने 2015 में मामला दर्ज किया

पीएमएलए के तहत ईडी ने इस मामले में कई सरकारी अधिकारियों समेत अन्य लोगों की 1.18 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की है। इस संबंध में ईडी ने 2015 में मामला दर्ज किया था।

यह भी पढ़ें- मोबाइल रेडिएशन से बचने के जावड़ेकर ने निकाला अनोखा तरीका, देखें वीडियो

सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा तरफ से जमीन खरीदने की अथॉरिटी महेश नागर के पास थी। वहीं दूसरी पार्टी की तरफ से अथॉरिटी अशोक कुमार के पास थी। अशोक कुमार और महेश नागर एक ही गांव के रहने वाले हैं। ईडी के अधिकारी दोनों सो पूछताछ कर रहे हैं।

Loading...
Share it
Top