Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पेंटागन स्पेस रिपोर्ट का बड़ा खुलासा चीन रच रहा है अमेरिका के खिलाफ ये बड़ी साजिश

पेंटागन की एक नई स्पेस रिपोर्ट में खुलासा किया है कि चीन (बीजिंग) अनिश्चित रूप से लंबे समय तक बमवर्षक और निकट भविष्य में अमेरिका और उसके सहयोगियों के खिलाफ हमलों के लिए संभावित प्रशिक्षण को विकसित कर रहा है।

पेंटागन स्पेस रिपोर्ट का बड़ा खुलासा चीन रच रहा है अमेरिका के खिलाफ ये बड़ी साजिश

पेंटागन की एक नई स्पेस रिपोर्ट में खुलासा किया है कि चीन (बीजिंग) अनिश्चित रूप से लंबे समय तक बमवर्षक और निकट भविष्य में अमेरिका और उसके सहयोगियों के खिलाफ हमलों के लिए संभावित प्रशिक्षण को विकसित कर रहा है।

गुरुवार को प्रकाशित रिपोर्ट में यह भी बताया गया हैं कि चीन अपने रक्षा क्षेत्र में भारी निवेश करके अपने वैश्विक प्रभाव को बढ़ाने के प्रयास कर रहा है। एक बार फिर इस रिपोर्ट के खुलासे में ये सामने आया है कि चीन ने पिछले साल पहले से ही 190 अरब डॉलर खर्च किए हैं।
चीन के पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के लिए एक संक्षिप्त नाम का उपयोग करते हुए रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले तीन सालों में पीएलए ने अपने समुद्री जल बमवर्षक परिचालन क्षेत्रों में तेजी से विस्तार किया है। चीन महत्वपूर्ण समुद्री क्षेत्रों में अनुभव हासिल कर रहा है इससे अमेरिका और उसके संबद्ध लक्ष्यों के खिलाफ हमलों की संभावना हो सकती है।
रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि चीन परमाणु क्षमता वाले लंबी दूरी के बमवर्षकों का निर्माण भी कर रहा है और चीनी ने वायुसेना को परमाणु मिशन को फिर से सौंपा दिया गया है। जिससे चीन को पहली बार जमीन, समुद्र और हवा में मार करने में शक्ति हासिल होगी।
रिपोर्ट के दस्तावेज ने यह भी खुलासा किया कि चीन में शी जिनपिंग की अगुआई वाली सरकार पहले से ही जिबूती में अपना पहला विदेशी आधार बना चुकी है और यह "उन देशों में अतिरिक्त सैन्य अड्डों को स्थापित करने की तलाश कर रही हैं जिनके साथ इसका दीर्घकालिक दोस्ताना संबंध और पाकिस्तान जैसे समान रणनीतिक हित शामिल हैं। लेकिन यह स्पष्ट नहीं है कि ज़ी जिनपिंग की अगुआई वाली सरकार इस तरह से एयरक्राफ्ट भेजकर क्या व्यक्त करने की कोशिश कर रही है।
पेंटागन रिपोर्ट ने यह भी दावा किया कि ड्रैगन दुनिया भर में और अंतरिक्ष में वस्तुओं पर नजर रखने के लिए अपनी अंतरिक्ष निगरानी क्षमताओं को मजबूत करने की दिशा में भी काम कर रहा है। चीनी सरकार द्वारा इस कदम से उन्हें भविष्य के काउंटर स्पेस कार्यों के लिए तैयार करने की उम्मीद है।
बता दें कि पेंटागन की ये रिपोर्ट उस समय आई है जब चीन और अमेरिका आने वाले दिनों में व्यापार वार्ता करने की संभावना तलाश रहे हैं, इस रिपोर्ट के खुलासे से उम्मीद की जा रही हैं कि चीन और अमेरिका के व्यापार के रास्तों में रूकावटें आ सकती हैं।
विशेष रूप से, इस नई पेंटागन रिपोर्ट उस समय उभरी है जब संयुक्त राज्य अमेरिका और चीन आने वाले दिनों में व्यापार वार्ता करने की संभावना रखते हैं, उम्मीद करते हैं कि वे व्यापार युद्ध को रोक सकते हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top