Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भीमा कोरेगांव के पीड़ित ने मुख्य आरोपी की जमानत को HC में दी चुनौती

पुणे के भीमा कोरेगांव में एक जनवरी को हुई हिंसा के एक पीड़ित ने इस मामले के मुख्य आरोपी मिलिंद एकबोटे की जमानत को चुनौती देते हुए बंबई उच्च न्यायालय में आवेदन दिया है।

भीमा कोरेगांव के पीड़ित ने मुख्य आरोपी की जमानत को HC में दी चुनौती
X

पुणे के भीमा कोरेगांव में एक जनवरी को हुई हिंसा के एक पीड़ित ने इस मामले के मुख्य आरोपी मिलिंद एकबोटे की जमानत को चुनौती देते हुए बंबई उच्च न्यायालय में आवेदन दिया है। एक स्थानीय अदालत ने मिलिंद एकबोटे को जमानत दी थी।

समस्त हिंदू अगाड़ी नामक दक्षिण पंथी संगठन के प्रमुख एकबोटे के खिलाफ पुणे पुलिस ने हिंसा भड़काने के आरोप में और एससी/ एसटी अधिनियम की धाराओं के तहत दो प्राथमिकी दर्ज की थी।

पुणे की स्थानीय अदालत, बंबई उच्च न्यायालय और उच्चतम न्यायालय ने उसकी अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी थी, जिसके बाद मार्च में उसे गिरफ्तार कर लिया गया था।

यह भी पढ़ें- महाराष्ट्र: पूर्व ATS चीफ हिमांशु रॉय ने की खुदकुशी, ब्लड कैंसर से थे पीड़ित

हालांकि, गिरफ्तारी के एक महीने बाद पुणे की एक निचली अदालत ने जमानत दे दी थी। सत्र न्यायालय द्वारा दी गई जमानत को अब उस घटना के एक पीड़ित संजय भलेराव ने चुनौती दी है।

भलेराव की ओर से वकील नितिन सतपुते ने याचिका दायर की है। अपनी याचिका में भलेराव ने आरोप लगाया कि सत्र अदालत एकबोटे को जमानत देते वक्त इस तथ्य पर ध्यान देने में विफल रही कि उस पर कई संगीन अपराधों के मामले दर्ज हैं और वह एक आदतन अपराधी है।

उन्होंने कहा कि भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में पुलिस द्वारा की गई जांच से पता चला कि यह एक पूर्व- नियोजित साजिश थी। उन्होंने उच्च न्यायालय से एकबोटे की जमानत रद्द करने की अपील की है।

यह भी पढ़ें- मोबाइल चोरी या गुम हो जाए तो अब घबराने की जरूरत नहीं, सरकार की इस तकनीक से मिलेगा वापस

एक जनवरी को भीमा कोरेगांव युद्ध की 200 वीं वर्षगांठ पर आयोजित एक समारोह में हिंसा हुई थी , जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई थी और 10 पुलिसकर्मी समेत कई लोग घायल हो गये थे। भीमा कोरेगांव युद्ध 1818 ई. में एक जनवरी को ब्रिटिश सेना और पेशवा सेना के बीच युद्ध हुआ था।

इनपुट भाषा

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story