Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पति-पत्नी का था अलग धर्म, होटल ने नहीं दिया कमरा

रिसेप्शन पर वोटर आईडी दिखाने के बाद रूम नहीं दिया गया।

पति-पत्नी का था अलग धर्म, होटल ने नहीं दिया कमरा
X

हमारे समाज में अक्सर ही ऐसा देखने में आता है कि धर्म और जाति के नाम पर शादीशुदा जोड़े तक सामाजिक भेदभाव का शिकार होते हैं। कुछ ऐसे ही भेदभाव का सामना करना पड़ा है केरल के एक शादीशुदा कपल को।

ये कपल जब बेंगलुरु के होटल में कमरा बुक कराने गये तो होटल स्टाफ ने उनका पहचान पत्र मंगा जिस पर कपल ने अपनी वोटर आईडी उन्हें दिखाई।जब होटल स्टाफ को ये पता चला कि पति पत्नी दोनों का अलग-अलग धर्मों से हैं तो उन्होंने दंपत्ति को कमरा देने से साफ़ मना कर दिया।

इसे भी पढ़ें: मां-बाप निकले भाई-बहन, बेटी का टूटा दिल

ये वाकिया हुआ केरल के कोझिकोड के रहने वाले 36 वर्षीय पब्लिशर शफीक सुबैदा हकीम के साथ। उन्होंने बताया कि होटल वालों ने उन्हें और उनकी पत्नी को कमरा दिखाया, लेकिन रिसेप्शन पर वोटर आईडी दिखाने के बाद रूम नहीं दिया गया।

जबकि होटल और पुलिस ने कपल की शिकायत पर बताया कि कपल अपना पहचान प्रमाण नहीं दिखा रहे थे जिस वजह से उन्हें होटल में रूम नहीं दिया गया।

इस मामले में हकीम ने कहा, 'हम कानून की मदद लेंगे क्योंकि होटल का यह अपराध हमें संविधान के तहत दिए गए जीवन के अधिकार का उल्लंघन है।'

हकीम ने जानकारी दी, 'हम मंगलवार सुबह करीब 6:30 पर होटल पहुंचे और दो घंटे के लिए रूम मांगा ताकि इंटरव्यू के लिए निकलने से पहले हम फ्रेश हो सकें।'

इसे भी पढ़ें: इस युवती के सिर से पांव तक मस्से ही मस्से, बन सकती है अगली मिस यूनिवर्स

उन्होंने बताया, 'होटल स्टाफ ने हमें एक कमरा दिखाया और हम वापस रिसेप्शन पर पहुंचे, जहां रिसेप्शनिस्ट ने हमसे आईडी कार्ड दिखाने के लिए कहा। मैंने अपना और दिव्या, दोनों के आईडी कार्ड दिखाए।'

उन्होंने कहा, 'आईडी कार्ड देखने के बाद रिसेप्शनिस्ट ने अजीब-सा लुक दिया और कहा कि हम एक मुस्लिम शख्स और हिंदू महिला को सिंगल रूम नहीं दे सकते।'

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story