Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पति को बिजनेस में हुआ घाटा, तो खुद उठा ली घर की जिम्मेदारी, ऐसा काम किया कि आज ''प्रेरणा'' बनीं

भारत में अभी भी यह सोच कायम है कि घर के पुरुष को काम करना चाहिए और महिलाओं को घर संभालना चाहिए। महिलाएं घर संभाल के तो अपने घर की तरक्की कर ही रही हैं। लेकिन जब उन्हें घर से निकल कर काम करने का मौके मिल जाए तो उनकी तरक्की को कोई नहीं रोक सकता। यह कहना है सोनिया चोपड़ा का।

पति को बिजनेस में हुआ घाटा, तो खुद उठा ली घर की जिम्मेदारी, ऐसा काम किया कि आज प्रेरणा बनीं
X

भारत में अभी भी यह सोच कायम है कि घर के पुरुष को काम करना चाहिए और महिलाओं को घर संभालना चाहिए। महिलाएं घर संभाल के तो अपने घर की तरक्की कर ही रही हैं। लेकिन जब उन्हें घर से निकल कर काम करने का मौके मिल जाए तो उनकी तरक्की को कोई नहीं रोक सकता। यह कहना है सोनिया चोपड़ा का।

दिल्ली की रहने वाली सोनिया एक गृहणी है। लेकिन अब वह बहुत से लोगों के लिए प्रेरणा बन गई हैं। सोनिया ब्यूटीशियन हैं। वह पैसा कमाने के लिए तो काम करती ही हैं लेकिन उन लोगों को सिखाती सिखाती भी हैं जिनमें सीखने की चाह है पर पैसे नहीं दे सकतीं। वह कई तरह के चैरिटी फंक्शन में अपनी सेवा मुफ्त में देती हैं।

सोनिया ने बताया कि हाल ही में एक फैशन शो का आयोजन किया गया था जो कैंसर से पीड़ित लड़कियों के लिए था। इस कार्यक्रम में उन्होंने लड़कियों का मेकअप किया था वो भी बिना किसी पैसे के। सोनिया का कहना है कि हाल ही में वह मूक बधिर बच्चियों को भी इशारों से मेकअप करने की कला सिखाएंगी ताकि वह भविष्य में अपने पैरों पर खड़ी हो सकें।

उनका कहना है कि भारत में अंग्रेजी बोलने वाले लोगों को विशेष नजर से देखा जाता है, लेकिन मैने हमेशा लोगों से कहा है कि अगर अंग्रेजी नहीं आती तो शर्मिंदा होने की जरूरत नहीं है।

घर को कर रही हैं सपोर्ट

सोनिया बताती हैं कि उन्होंने ब्यूटीशियन का कोर्स शादी से पहले ही किया था। लेकिन शादी के कई साल बाद उसकी जरूरत पड़ेगी यह मुझे नहीं पता था। जब मेरे पति का बिजनेस खराब चलने लगा तो मैने घर को सपोर्ट करने का फैसला किया।
वह बताती हैं कि उन्हें आता तो सबकुछ था लेकिन थोड़ा अपडेट होने की जरूरत थी इसलिए उन्होंने यूट्यूब से सीखा। हेयरस्टाइल करना यू-ट्यूब से सीखा। शुरुआत में उन्हें कोई काम नहीं मिला तब उन्हें किसी ने बताया कि अपना सैंपल वर्क फेसबुक पर डालें। फेसबुक पर अपना काम दिखाने पर उन्हें काफी प्रोत्साहन मिला, लेकिन प्रोत्साहन से घर नहीं चलने वाला था।
उसके लिए पैसों की आवश्यक्ता थी। जो लोग काम देखते थे वह तमाम तरह के सवाल पूछते थे। जो बहुत ही परेशान करने वाला था। कई बार लोग काम करवाने के लिए तैयार नहीं होते थे। तैयार होते थे तो पेमेंट किसी और तरह से करने की कोशिश करते थे। लेकिन धीरे-धीरे लोग उनके काम को देख कर पसंद करने लगे जो उनके लिए तरक्की का माध्यम बना।
सोनिया बताती हैं कि उनके दो बच्चे हैं जिनमें से एक भारतीय नौसेना की ट्रेनिंग ले रहे हैं। सोनिया के काम के कारण ही आज फेसबुक पर उनके पांच हजार से ज्यादा और इंस्टाग्राम पर 50 हजार से ज्यादा फॉलोवर हैं। उनके काम ने उन्हें प्रसिद्धि दिलाई है जिसके चलते वह कई कार्यक्रमों में जज की भूमिका निभा चुकी हैं।

सक्सेज मंत्र

सोनिया के लिए खुद में विश्वास करना सबसे बड़ा सक्सेज मंत्र है। हमेशा अपने पर विश्वास रखने से ही सफलता मिलेगी। हार मान लिया तो हार गए लेकिन अगर हार नहीं माना तो ही सफलता मिलेगी। आज लोगों को अपना हुनर बांट कर सोनिया चोपड़ा प्रेरणा बन गई हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story