Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अयोध्या में मंदिर करवा रहा है मस्जिद की मरम्मत

आलमगिरी मस्जिद की मरम्मत इसलिए करवाई जा रही है ताकि वहां नमाज अदा की जा सके।

अयोध्या में मंदिर करवा रहा है मस्जिद की मरम्मत
अयोध्या. अयोध्या से एक सामाजिक सौहार्द की खबर आई है। हनुमानगढ़ी के अधिकार क्षेत्र में आने वाली 300 साल पुरानी मस्जिद की मरम्मत मंदिर का ट्रस्ट अपने खर्चे पर करवा रहा है। इस मस्जिद की मरम्मत इसलिए करवाई जा रही है ताकि वहां नमाज अदा की जा सके।
यूपी के अयोध्या मेें बाबरी मस्जिद विध्वंस की घटना को अब 24 साल हो चुके है। उस घटना ने पूरे देश में सांप्रदायिक तनाव की स्थित पैदा कर दी थी। इसके बाद वहां कई ऐसे मामले देखने को मिले हैं, जिनसे समाज में आपसी सदभाव और को प्रेम का संदेश जाता है।
हनुमानगढ़ी के अधिकार क्षेत्र में आने वाली आलमगिरी मस्जिद करीब 300 साल पुरानी है। कुछ दिन पहले ही मस्जिद की खस्ता हालत को देखते हुए अयोध्या म्युनिसिपल बोर्ड ने इसे खतरनाक करार दे दिया था। मस्जिद एकदम जर्जर हालत में थी। बोर्ड ने मस्जिद में लोगों को प्रवेश को रोकने के लिए एक नोटिस भी लगाया था। इसके बाद हनुमानगढ़ी मंदिर ट्रस्ट ने मस्जिद की मरम्मत करवाने की अनुमति ली और उसका पूरा खर्च भी उठाया।
हालांकि मस्जिद की मरम्मत अभी चल रही है, लेकिन मुस्लिम समुदाय के लोगों को इसमें नमाज अदा करने की अनुमति दे दी गई है।
बता दें कि आलमगिरी मस्जिद का निर्माण 17वीं शताब्दी में तत्कालीन मुग़ल शासक ओरंगजेब ने करवाया था। लगभग 1775 को यह जमीनी शुजाउद्दीन ने हनुमानगढ़ी को दे दी थी। शुजाउद्दीन ने शर्त रखी थी कि यहां कभी किसी को नमाज अदा करने से नहीं रोका जाएगा।
बता दें कि रखरखाब और मरम्मत के आभाव में यह मस्जिद जर्जर हालात में पहुंच गई थी। इसलिए यह नमाज होना भी कम हो गया था। अयोध्या म्युनिसिपल बॉर्ड के नोटिस के बाद ही कुछ मुस्लिम समुदाय के लोग हनुमानगढ़ी मंदिर ट्रस्ट से मिले और ट्रस्ट के महंत ज्ञान दास से मस्जिद की मरम्मत करवाने की गुजारिश की।
महंत ज्ञान दास ने बताया कि, "मैंने मुस्लिम भाइयों से कहा कि मस्जिद की मरम्मत जरूर होगी और इसका पूरा खर्च हम उठाएंगे। साथ ही मैंने मंदिर ट्रस्ट की तरफ से प्रशासन को 'नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट' भी दिया। यह खुदा का घर है, यहां मुस्लिम भाइयों को नमाज अदा करने की सुविधा मिलनी ही चाहिए। महंत दास का कहना है कि मस्जिद के एक पुराने मकबरे की भी मरम्मत करवाई गई है। गौरतलब है कि महंत दास लंबे समय से अयोध्या में रमजान के दौरान इफ्तार पार्टी का भी आयोजन करवाते आ रहे हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Hari bhoomi
Share it
Top