Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अयोध्या में राम मंदिर : सीएम योगी से मिले शिया वक्फ बोर्ड के चैयरमैन रिजवी, अटकलें तेज

राजधानी लखनऊ में हुई इस मुलाकात में वसीम रिजवी ने सीएम योगी से अयोध्या मसले पर अहम बात की है।

अयोध्या में राम मंदिर : सीएम योगी से मिले शिया वक्फ बोर्ड के चैयरमैन रिजवी, अटकलें तेज
X

अयोध्या में राम मंदिर बनाने को लेकर शिया वक्फ बोर्ड के चैयरमैन वसीम रिजवी ने आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की है। राजधानी लखनऊ में हुई इस मुलाकात में वसीम रिजवी ने सीएम योगी से अयोध्या मसले पर अहम बात की है।

यह भी पढ़ें: भोपाल सामूहिक दुष्कर्म मामला: मेडिकल रिपोर्ट पर उठे सवाल, सियासत तेज

हालांकि बातचीत का खुलासा अभी तक नहीं किया गया है। माना जा रहा है कि इस अहम मुलाकात में रिजवी ने आर्ट ऑफ लिविंग फाउंडेशन के संस्थापक व आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर से हुई बातचीत को लेकर अपनी राय व्यक्त की है।

यह भी पढ़ें: नोएडा ऑनलाइन फ्रॉड केस: अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी की बढ़ी मुश्किलें

बता दें कि शिया वक्फ बोर्ड अयोध्या में राम मंदिर बनाने के पक्ष में है और इसी सिलसिले में वसीम रिजवी ने बंगलुरू में श्री श्री रविशंकर से मुलाकात की थी।

यह भी पढ़ें: राजस्थान हाईकोर्ट ने लगाई ओबीसी विधेयक पर रोक, गुर्जरों को बड़ा झटका

मिलने के बाद रजवी ने बताया था कि उन्होंने श्री श्री रविशंकर से अपील की है कि वह बातचीत का सिलसिला उन्हीं लोगों से करें, जो समझौते के लिए तैयार हों। इसके साथ ही उन्होंने कोर्ट के बाहर अयोध्या मसले के हल होने की उम्मीद भी जताई थी।

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी ने विजय रूपाणी केस को लेकर पीएम मोदी पर कसा तंज

दरअसल, अयोध्या में राम मंदिर विवाद को सुलझाने के लिए श्री श्री रविशंकर मध्यस्थता कर रहे हैं और इसके लिए वह संबंधित पक्षों के नेताओं से मुलाकात भी कर रहे हैं। लेकिन, कुछ लोगों ने उनकी इस पहल का विरोध भी किया है।

यह भी पढ़ें: दिल्ली में प्रदूषण को रोकने के लिए फिर लागू हुआ ऑड-ईवन फॉर्मूला

विरोध करने वालों में भाजपा के पूर्व सांसद और साधू राम विलास वेदांती भी हैं। उनका कहना है कि राम मंदिर के लिए लाखों ने बलिदान दिया है। ऐसे में श्री श्री रविशंकर को मध्यस्थता करने का कोई अधिकार नहीं है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story