Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जिस दिन बाबरी मस्जिद को ध्वस्त किया गया, उस दिन संविधान की मर्यादा को भी तोड़ा गया: शरद यादव

शरद यादव ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि जिस दिन बाबरी मस्जिद को ध्वस्त किया गया, वह सिर्फ एक ढांचा को नहीं गिराया गया था, बल्कि भारतीय संविधान का ध्वंस किया गया था।

जिस दिन बाबरी मस्जिद को ध्वस्त किया गया, उस दिन संविधान की मर्यादा को भी तोड़ा गया: शरद यादव

लोकतांत्रिक जनता दल (एलजेडी) के नेता शरद यादव ने सोमवार को बाबरी मस्जिद विध्वंस पर बड़ा बयान दिया है। शरद यादव ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि जिस दिन बाबरी मस्जिद को ध्वस्त किया गया, वह सिर्फ एक ढांचा को नहीं गिराया गया था, बल्कि भारतीय संविधान का ध्वंस किया गया था।

उन्होंने आगे कहा कि यहां तक कि संविधान की पवित्रता भी कम हो गई थी। शरद यादव ने यह सभी बातें कांग्रेस के अनुसूचित जाति विभाग की ओर से आयोजित संविधान दिवस समारोह में कही थी।

उन्होंने अयोध्या में आयोजित हुई विश्व हिन्दू परिषद की धर्म संसद पर भी निशाना साधा। वीएचपी पर निशाना साधते हुए कहा कि 'बाबा साहेब का संविधान आस्था नहीं वैज्ञानिक दृष्टिकोण वाला है। इसके तहत संसद कभी बाहर नहीं लगती, लेकिन अब संसद बाहर लगाई जा रही है।

Share it
Top