Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अयोध्या विवाद: इस्माइल फारूकी का इस केस से क्या है संबंध, जानें 5 अहम बातें

अयोध्या में पिछले कई सालो से जारी राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद से अलग मस्जिद में नमाज पढने को लेकर सुप्रीम कोर्ट बड़ा फैसला सुना सकता है।

अयोध्या विवाद: इस्माइल फारूकी का इस केस से क्या है संबंध, जानें 5 अहम बातें
X

अयोध्या में पिछले कई सालो से जारी राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद से अलग मस्जिद में नमाज पढने को लेकर सुप्रीम कोर्ट गुरूवार को बड़ा फैसला सुना सकता है।

सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में 1994 में एक फैसला सुनाया था। कोर्ट ने अपने उस फैसले में कहा था कि नमाज पढ़ना मस्जिद का अनिवार्य हिस्सा नहीं है। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट के इस पर पुनर्विचार के लिए इस्माइल फारूकी ने एक याचिका दायर की गई थी।

नमाज पढने से संबंधित इसी फैसले पर कोर्ट आज अपना फैसला सुनाएगा। आईए हम आपको बता रहे हैं इस्माइल फारूकी केस से जुडी कुछ अहम बातें-

इसे भी पढ़ें- सुप्रीम कोर्ट ने 157 साल पूराने कानून की धारा 497 को दिया असंवैधानिक करार, कहा- पति सिर्फ पति है मालिक नहीं

* साल 1994 में सुप्रीम कोर्ट ने अपने एक फैसले में कहा था कि नमाज पढ़ना मस्जिद का अनिवार्य हिस्सा नहीं है।

* बाद में इस फैसले पर पुनर्विचार करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में एक पुनर्विचार याचिका दायर कि गई थी।

* 20 जुलाई 2018 को प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अगुवाई वाली एक पीठ ने इस मामले पर अपना फैसला सुरक्षित रखा था।

* सुप्रीम कोर्ट की ये पीठ अब इस बात पर सुनवाई करेगी कि इस मामले को संवैधानिक पीठ को भेजने की जरूरत है या नहीं।

* 1994 से चल रहा ये मामला सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर-बाबरी मस्जिद विवाद से अलग है।

* अगर आज सुप्रीम कोर्ट इस्माइल फारूकी मामले को संविधान की पीठ के पास भेज देता है, तो राम मंदिर-बाबरी मस्जिद विवाद की सुवाई लम्बे समय तक अटक सकता है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story