Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

त्रिपुरा के गवर्नर का बयान- हिन्दुओं की चिता जलाने पर भी लग सकता है बैन

पटाखों पर बैन लगाए जाने पर तथागत रॉय ने कहा- हिन्दू त्योहारों पर ही प्रतिबंध क्यों लगाया जाता है।

त्रिपुरा के गवर्नर का बयान- हिन्दुओं की चिता जलाने पर भी लग सकता है बैन
X

दिल्ली-एनसीआर में इस दिवाली पर पटाखों पर सुप्रीम कोर्ट की ओर से प्रतिबंध लगाए जाने को लेकर त्रिपुरा के राज्यपाल तथागत रॉय का एक ट्वीट विवाद के घेरे में आ गया है।

कभी दही हांडी,आज पटाखा ,कल को हो सकता है प्रदूषण का हवाला देकर मोमबत्ती और अवार्ड वापसी गैंग हिंदुओ की चिता जलाने पर भी याचिका डाल दे !

तथागत रॉय ने पटाखों पर बैन से नाराज होकर ट्वीट किया कि - ‘कभी दही हांडी, आज पटाखा, कल को हो सकता है कि प्रदूषण का हवाला देकर अवॉर्ड वापसी गैंग हिंदुओं की चिता जलाने पर भी याचिका डाल दे।

सुप्रीम कोर्ट ने दीपावली के दौरान दिल्ली-एनसीआर में पटाखों की बिक्री पर पाबन्दी लगा दी है। पटाखों के बैन पर लेखक चेतन भगत ने भी अपनी नाराजगी जताई है।

चेतन भगत ने एक ट्वीट किया कि 'बिना पटाखों के बच्चों के लिए दिवाली का क्या मतलब है?' चेतन ने आगे कहा कि सुप्रीम कोर्ट का बैन परंपराओं पर चोट है।

उन्होंने कहा कि बैन की जगह रेगुलेशन बेहतर विकल्प हो सकता था। चेतन भगत ने प्रदूषण नियंत्रण करने के लिए सुझाव भी दिए।

भगत ने कहा कि केवल हिंदुओं के त्योहार पर बैन लगाने की हिम्मत क्यों दिखाई जाती है? क्या जल्द ही बकरियों की बलि और मुहर्रम के खूनखराबे पर भी रोक लगेगी? जो लोग दिवाली जैसे त्योहारों में सुधार लाना चाहते हैं, मैं उनमें यही शिद्दत खून-खराबे से भरे त्योहारों को सुधारने के लिए भी देखना चाहता हूं।'

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story