Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अब मेट्रो की तरह ऑटोमेटिक खुलेंगे ट्रेन के दरवाजे

एक कोच में इस तकनीक को लगाने में 20 लाख रुपए का खर्च आएगा।

अब मेट्रो की तरह ऑटोमेटिक खुलेंगे ट्रेन के दरवाजे
X
नई दिल्ली. मेट्रो की तर्ज पर अब राजधानी-शताब्दी ट्रेनों के दवाजे भी ऑटोमेटिक खुलेंगे। इनका नियंत्रण गार्ड के पास होगा और दरवाजे सिर्फ प्लेटफार्म की तरफ ही खुलेंगे।, जिसकी अनाउंसमेंट भी की जाएगी। इसके लिए ट्रेन के नए डिब्बे बनाए जाएंगे, इससे दुर्घटनाएं रुकेंगी। साथ ही चोरी की घटनाओं पर भी लगाम लगेगा।
रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि गार्ड अपने केबिन से मास्टर पैनल कंठ्रोल करेगा और बटन दबाकर दरवाजे खोलेगा और बंद करेगा। प्लेटफार्म से चलने के बाद दरवाजे ऑटोमेटिक बंद हो जाएंगे और अगले स्टेशन पर ट्रेन रुकने के बाद ही खुलेंगे। दरवाजों के बीच किसी प्रकार का व्यवधान होने पर वह बंद नहीं होंगे और गार्ड केबिन में बीप की आवाज से इसका पता चल जाएगा। गार्ड मास्टर पैनल कंट्रोल में सभी कोच की स्थित पर नजर रख सकेगा। इस तकनीक को आरडीएसओ,लखनऊ ने विकसित किया है।
20 लाख में एक कोच बनेगा
एक कोच में इस तकनीक को लगाने में 20 लाख रुपए का खर्च आएगा। फिलहाल 100 कोच में इसे लगाया जा रहा है। इसके बाद चरणबद्ध तरीके से अन्य ट्रेनों में ऑटोमेटिक लॉकिंग एंड ओपनिंग सिस्टम लगाया जाएगा।
मार्ट में हावड़ा रूट पर पहली ट्रेन
नई प्रणाली के साथ पहली ठ्रेन दिल्ली हावड़ा रूट पर मार्च तक चलने की संभावना है। तेजस मार्च तक और राजधानी अप्रैल तक आ जाएगी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि
, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story