logo
Breaking

ATS ने जिसे पकड़ा वो आतंकी नहीं, दी क्लीन चिट

यूपी के मथुरा से जम्मू-कश्मीर के रहने वाले जिस बिलाल अहमद वानी को आतंकी होने के शक में हिरासत में लिया गया था, वो बेकसूर निकला है।

ATS  ने जिसे पकड़ा वो आतंकी नहीं, दी क्लीन चिट

यूपी के मथुरा से जम्मू-कश्मीर के रहने वाले जिस बिलाल अहमद वानी को आतंकी होने के शक में हिरासत में लिया गया था, वो बेकसूर निकला है। पूछताछ के बाद जांच एजेंसियों ने बिलाल को क्लीन चिट दे दी है।

वहीं, बिलाल के जो साथी पुरानी दिल्ली के अल राशिद होटल में रुके थे, उनमें से एक मुदस्सिर नकली नोटों के कारोबार से जुड़ा पाया गया है। जबकि तीसरे साथी अशरफ को भी क्लीन चिट दे दी गई है। यूपी एटीएस चीफ असीम अरुण ने सोमवार को खुद ये जानकारी साझा की।

इससे पहले एटीएस ने कहा था कि पूछताछ में इस शख्‍स ने कबूला है कि वो और उसके दोस्त 26 जनवरी के दौरान दिल्ली के अक्षरधाम मंदिर पर आतंकी हमले को अंजाम देने वाले थे। दिल्ली पुलिस गिरफ्तार शख्स के साथियों की तलाश में कई जगह छापेमारी कर रही है।

इसे भी पढ़ेंः अदालत ने पाक तालिबान प्रमुख मुल्ला फजलुल्लाह के ससुर को दी जमानत

असीम अरुण ने बताया, 'बिलाल अहमद वानी जो 7 जनवरी को दिल्ली-भोपाल शताब्दी में बिना टिकट यात्रा के दौरान मथुरा जीआरपी द्वारा पकड़ा गया था और संदिग्ध आचरण कर रहा था, उससे पूछताछ में कोई विपरीत तथ्य प्रकाश में नहीं आए हैं। जिसके चलते उसे परिवारजनों के साथ अनंतनाग भेजा गया है। असीम अरुण ने बताया कि इस संबंध में जम्मू-कश्मीर पुलिस के साथ मिलकर अग्रिम जांच की जा रही है।

7 जनवरी को हुई थी गिरफ्तार

7 जनवरी की रात मथुरा के पास भोपाल शताब्दी से बिलाल अहमद वानी को हिरासत में लिया गया था। बिलाल बिना टिकट यात्रा कर रहा था। साथ ही जब उससे पूछताछ की गई तो उसका आचरण संदिग्ध पाया गया और उसे हिरासत में ले लिया गया। बिलाल से पूछताछ के बाद उसकी निशानदेही पर दो लोगों की तलाश में दिल्ली के होटलों में छापेमारी की गई। लेकिन तफ्तीश में पता चला कि दोनों संदिग्ध एक दिन पहले ही होटल से निकल गए हैं।

Loading...
Share it
Top