Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Atal Bihari Vajpayee Quotes: अटल बिहारी वाजपेयी के विचार जो जीवन भर देंगे प्रेरणा

अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) की आज 94वीं जयंती है। आज अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती (Atal Bihari Vajpayee Jayanti) के मौके पर पूरा देश आज उनकी इस कमी को महसूस कर रहा है। अटल बिहारी वाजपेयी देश के पूर्व प्रधानमंत्री रहे हैं। आज हम आपको अटल बिहारी वाजपेयी के कुछ विचारों को बता रहे हैं जो पूरे देश को प्रेरणा देते हैं।

Atal Bihari Vajpayee Quotes: अटल बिहारी वाजपेयी के विचार जो जीवन भर देंगे प्रेरणा
अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) की आज 94वीं जयंती है। आज अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती (Atal Bihari Vajpayee Jayanti) के मौके पर पूरा देश आज उनकी इस कमी को महसूस कर रहा है। अटल बिहारी वाजपेयी देश के पूर्व प्रधानमंत्री रहे हैं।
एक बेहतरीन राजनेता रहे हैं और एक प्रखर वक्ता के रूप में जाने जाते हैं। भारतीय जनसंघ की स्थापना में उनकी अहम भूमिका रही है। 1968 से 1973 तक वह जनसंघ के अध्यक्ष पद की कमान संभाल चुके हैं।
अटल बिहारी वाजपेयी आजीवन राजनीति में रहे और अविवाहित रहे। उन्होंने राष्ट्रधर्म, पाञ्चजन्य और वीर अर्जुन आदि पत्र-पत्रिकाओं का संपादन भी किया। अटल बिहारी वाजपेयी एक ऐसे नेता रहे हैं जिनकी आलोचना विपक्ष भी नहीं करता।
कई बार विपक्ष के लोग कहते थे कि बाजपेयी हैं तो अच्छे आदमी लेकिन गलत पार्टी में हैं।जिसका बाजपेयी अपने विचारों से जवाब देते थे।आज हम आपको अटल बिहारी वाजपेयी के कुछ ऐसे ही विचारों को बता रहे हैं जो पूरे देश को प्रेरणा देते हैं।
  • 51 वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर अटल बिहारी वाजपेयी ने लाल किले से जय जवान, जय किसान और जय विज्ञान का नारा दिया था।
  • अटल बिहारी वाजपेयी ने कहा था कि छोटे मन से कोई बड़ा नहीं होता, टूटे मन से कोई खड़ा नहीं होता।
  • जीत और हार जीवन का एक हिस्सा है, जिसे समानता के साथ देखा जाना चाहिए।
  • अगर भारत धर्मनिरपेक्ष नहीं है, तो भारत-भारत नहीं है।
  • आदमी किस तरह ताकत पाने के बाद घमंड से चूर हो जाता है इस पर अटल जी ने कहा था कि होने, ना होने का क्रम, इसी तरह चलता रहेगा. हम हैं, हम रहेंगे, ये भ्रम भी सदा पलता रहेगा
  • मैं हमेशा से ही वादे लेकर नहीं आया, इरादे लेकर आया हूं
  • अटल जी ने लोकतंत्र के बारे में कहा था कि लोकतंत्र एक ऐसी जगह है जहां दो मूर्ख मिलकर एक ताकतवर इंसान को हरा देते हैं।
  • मेरे पास न दादा की दौलत है और न बाप की। मेरे पास मेरी मां का आशीर्वाद है।
  • पाकिस्तान से वह दुश्मनी नहीं चाहते थे। इस लिए वह हर बार यह कहते थे कि आप मित्र बदल सकते हैं लेकिन पड़ोसी नहीं।
  • गरीबी बहुआयामी है यह हमारी कमाई के अलावा, स्वास्थ्य राजनीतिक भागीदारी, और हमारी संस्कृति और सामाजिक संगठन की उन्नति पर भी असर डालती है।
Share it
Top