Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

एसोचैम की सरकार से मांग, आधार को बैंको से लिंक करने की समयसीमा बढ़ाई जाए, 31 मार्च है डेडलाइन

उद्योग मंडल एसोचैम ने सरकार से बैंक खातों खासकर सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के खातों को आधार से जोड़ने को लेकर समयसीमा बढ़ाने का अनुरोध किया है।

एसोचैम की सरकार से मांग, आधार को बैंको से लिंक करने की समयसीमा बढ़ाई जाए, 31 मार्च है डेडलाइन
X

उद्योग मंडल एसोचैम ने सरकार से बैंक खातों खासकर सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के खातों को आधार से जोड़ने को लेकर समयसीमा बढ़ाने का अनुरोध किया है। उसका कहना है कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक पीएनबी में घोटाले के बाद अपने प्रमुख कारोबार को बचाने के लिये संघर्ष कर रहे हैं।

ऐसे में अन्य कार्यों में कर्मचारियों और अन्य संसाधनों को लगाने में उन्हें समस्या हो सकती है। उद्योग मंडल ने कहा कि अर्थव्यवस्था नोटबंदी और माल एवं सेवा कर के प्रभाव से बाहर आ गयी है और 31 मार्च के बाद किसी भी बैंक खाते के निष्क्रिय होने की चुनौती के लिये तैयार नहीं है। बैंक खातों को आधार से जोड़ने की अंतिम तिथि 31 मार्च है।

यह भी पढ़ें- IFS अफसर की मौत पर राष्ट्रपति कोविंद ने जताया दु:ख, कहा- राष्ट्र उन्हें सलाम करता है..

एसोचैम ने एक बयान में कहा, ‘‘न्यायिक जांच और सरकार के बेहतर इरादे के बावजूद बैंकों खासकर सरकारी बैंकों को सभी खातों को आधार से जोड़ने के काम को 31 मार्च 2018 तक पूरा करने में चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में समयसीमा बढ़ाने की जरूरत है।'

पंजाब नेशनल बैंक तथा अन्य बैंकों में घोटाला सामने आने के बाद सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक अपने प्रमुख कारोबार को बचाने में लगे हैं और ऐसे में आधार से खाते को जोड़ने में मानव और अन्य संसाधन लगाने में उन्हें कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। बयान के अनुसार जिनहोंने आधार दे दिया है, उन्हें केवाईसी के लिये संदेश आ रहे हैं।

यह भी पढ़ें- कश्मीर: शोपियां में गोलीबारी की घटना में एक आतंकवादी, तीन अन्य की मौत

एसोचैम ने कहा, ‘‘काफी भ्रम की स्थिति है। समयसीमा करीब आने के साथ यह और बढ़ सकता है। ऐसे में यह सुझाव है कि बैंकों को आधार को खातों से जोड़ने के काम से पहले संकट जैसी स्थिति से बाहर आने की अनुमति दी जाए।'

(भाषा- इनपुट)

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story