Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

चुनाव नतीजे / दिग्गजों का टूटा तिलिस्म, तीन राज्यों के इन 41 मंत्रियों को मिली करारी हार

मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में कई दिग्गजों का तिलिस्म टूट गया है। तीनों ही राज्यों के आधे से अधिक मंत्रियों को हार का सामना करना पड़ा है।

चुनाव नतीजे / दिग्गजों का टूटा तिलिस्म, तीन राज्यों के इन 41 मंत्रियों को मिली करारी हार

मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में कई दिग्गजों का तिलिस्म टूट गया है। तीनों ही राज्यों के आधे से अधिक मंत्रियों को हार का सामना करना पड़ा है। तीनों ही राज्यों के कुल 73 मंत्री मैदान में थे। इनमें से 41 को पराजय का मुंह देखना पड़ा। सिर्फ 32 मंत्री को ही बेहद कम वोटों से जीत मिली जो उनकी साख के अनुरूप न मिलने जैसा ही है।

बता दें कि मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार के 31 मंत्री मैदान में थे इनमें 13 को हार नसीब हुई। वहीं राजस्थान में राजे सरकार के 30 मंत्री मैदान में थे इनमें 20 को हार मिली और 8 ही किसी तरह अपनी लाज बचाकर विधानसभा पहुंचने में कामयाब हुए। ऐसा ही हाल छत्तीसगढ़ में हुआ यहां 12 में से 8 मंत्रियों के हिस्से में हार आई।

राजस्थान में भाजपा के ये मंत्री हारे

1. अरुण चतुर्वेदी, सामाजिक न्याय मंत्री, सिविल लाइंस

2. राजपाल सिंह, उद्योग मंत्री, झोटवाड़ा

3.प्रभुलाल सैनी, कृषि मंत्री, अंता

4.यूनुस खान, परिवहन मंत्री, टोंक

5. अजय सिंह, सहकारिता मंत्री, डेगाना

6. राम प्रताप, जल संसाधन मंत्री, हनुमानगढ़

7.गजेंद्र सिंह, वन मंत्री, लोहावट

8.श्रीचंद कृपलानी, यूडीएच मंत्री, निंबाहेड़ा

9 राजस्थान चुनाव रिजल्ट 2018: उम्मीद के मुताबिक बढ़त नहीं बना पाई कांग्रेस

4 मंत्री और विधानसभा उपाध्यक्ष पर भारी पड़े निर्दलीय

10. राज्यमंत्री ओटा राम देवासी को निर्दलीय संयम लोढ़ा ने हराया

11.राज्य मंत्री बंशीधर बाजिया को निर्दलीय महादेव सिंह ने हराया

12.निर्दलीय कांतिप्रसाद ने कैबिनेट मंत्री हेम सिंह भडाना को हराया

13.बसपा के जोगिंदर सिंह अवाना ने राज्य मंत्री कृष्णेंद्र कौर दीपा को हराया

14.भारतीय ट्राइबल पार्टी के राजकुमार रोट ने राज्य मंत्री सुशील कटारा को हराया

15.निर्दलीय आलोक बेनीवाल ने विधानसभा उपाध्यक्ष राव राजेंद्र सिंह को हराया

16 राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के पुखराज ने राज्य मंत्री कमसा को हराया है

4 मंत्री बागी बनकर उतरे, दो अपनों से हारे

17 राजकुमार रिणवा देवस्थान राज्य मंत्री थे, इनको रतनगढ़ से भाजपा के ही अभिनेष ने हराया

18 सुरेंद्र गोयल पीएचईडी मंत्री थे, इनको जैतारण से भाजपा के अविनाश ने हराया।

19. हेम सिंह भड़ाना थानागाजी

20. धनसिंह रावत बांसवाड़ा

मध्य प्रदेश में 31 में से 13 मंत्री हारे

मध्य प्रदेश के विधानसभा चुनाव में इस बार बड़ा उलटफेर दिखा है। इस बार शिवराज सरकार के 31 में से 13 मंत्रियों को हार का सामना करना पड़ा है। वहीं 2013 में 10 मंत्री चुनाव हारे थे। इसके साथ ही भारतीय जनता पार्टी की सत्ता से दूरी हो गई।

मध्य प्रदेश के विधानसभा चुनाव के नतीजे बुधवार की अलसुबह (लगभग चार बजे) आए। विधानसभा के नतीजों में किसी भी दल को बहुमत नहीं मिला है, मगर कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। कांग्रेस को 230 में से 114 सीटों पर जीत मिली है। कांग्रेस और भाजपा देानों ही दलों के कई बड़े नामों को हार का सामना करना पड़ा है।

मध्य प्रदेश में हारे ये मंत्री

1. बुरहानपुर विधानसभा सीट से इस बार मंत्री अर्चना चिटनीस को हार का सामना करना पड़ा. वो 5120 वोट से हारीं।

2.मध्य प्रदेश के वित्तमंत्री जयंत मलैया को भी हार का सामना करना पड़ा है. वो दमोह सीट पर 798 वोट से हारें।

3.शिवराज सरकार में स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह भी अपनी सीट नहीं बचा सके। उनको मुरैना में 20849 वोट से हार झेलनी पड़ी।

4.भोपाल दक्षिण पश्चिम से खड़े मध्य प्रदेश के राजस्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता को हार का सामना करना पड़ा है। उनकी 6587 वोट से हार हुई।

5. शिवराज सरकार के मंत्री अंतर सिंह आर्य की भी बड़ी हार हुई है। वो 15878 वोट से हारे।

6. भाजपा के मंत्री शरद जैन को जबलपुर उत्तर सीट से कांग्रेस के विनय सक्सेना ने 578 वोटों से हराया।

7. देवास की हाटपीपल्या सीट से भाजपा के मंत्री दीपक जोशी को कांग्रेस के मनोज सिंह चौधरी 13519 वोटों से हराया।

8. ग्वालियर से उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया की हार हुई है। उन्हें कांग्रेस के प्रद्युमन सिंह तोमर ने हराया।

9. ग्वालियर दक्षिण सीट से मंत्री रहे नारायण सिंह कुशवाह को भी हार का सामना करना पड़ा है। वो 126 वोट से हारे।

10. शिवराज सरकार में मंत्री ओम प्रकाश धुर्वे को हार मिली हैं। वो शाहपुरा सीट से 35,960 वोटों से हारे।

11. मंत्री लाल सिंह आर्य की भी करारी शिकस्त हुई है। उन्हें 23 हजार से ज्यादा वोटों से हार का सामना करना पड़ा।

12. मलहरा विधानसभा सीट से भाजपा की मंत्री ललिता यादव कांग्रेस के कुंवर प्रद्मुम्न सिंह लोधी से 15779 वोटों से हारीं।

13. शिवराज सरकार में मंत्री रहे केदार कश्यप को भी करारी हार का सामना करना पड़ा।

Share it
Top