Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आसाराम से लेकर राम रहीम तक, जानिए 5 ढोंगी बाबाओं और उनसे जुड़ी कॉन्ट्रोवर्सीज के बारे में

सतलोक आश्रम के संस्‍थापक बाबा रामपाल देशद्रोह, हत्‍या और कई संगीन मामलों के आरोपी कबीरपंथी फिलहाल जेल में बंद हैं।

जानकारी के मुताबिक, रामपाल संत बनने से पहले सरकारी विभाग में इंजीनियर थे। सालों तक सरकारी नौकरी करने के बाद उन्होंने इस्तीफा दे दिया और सत्संग में लीन हो गए। इसके बाद रामपाल ने खुद का आश्रम बसाया। जिसका नाम सतलोक है।

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक गिरफ्तारी के समय बरवाला 'हिसार, हरियाणा' स्थित सतलोक आश्रम में महिला टॉयलेट में सीसीटीवी कैमरा लगा मिला था। इतना ही नहीं, आश्रम से नशीली दवाइयां और कई आपत्तिजनक वस्तुएं मिलीं थी।

सोर्स आभार, टाइम्स नाउ

Next Story