Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खुलासाः मुलायम ने अखिलेश को चित कर ही दिया था, अगर अरविंद सिंह न होते

पेशे से किसान अरविन्द कुमार गोप वर्तमान में उत्तर प्रदेश से राज्यसभा सदस्य हैं।

खुलासाः मुलायम ने अखिलेश को चित कर ही दिया था, अगर अरविंद सिंह न होते
X
नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने हाल ही के अपनी एक चुनावी रैली में अरविन्द कुमार सिंह गोप का जिक्र किया था। अखिलेश ने कहा कि समाजवादी पार्टी को बचाने में उनकी बहुत बड़ी भूमिका रही हैं। राज्यसभा सदस्य अरविन्द कुमार सिंह दो बच्चों के पिता है और शुरुआत से ही समाजवादी पार्टी से जुड़े रहे है।

बता दे कि चुनाव के कुछ महीने पहले समाजवादी पार्टी में मुलायम सिंह और अखिलेश यादव के बीच कुछ वक्त तक पार्टी में वर्चस्व को लेकर खींच-तान रही थी लेकिन बाद में मुलायम सिंह ने पार्टी कि कमान अखिलेश को सौंप दी थी। जब समाजवादी पार्टी में दो गुट बन गए थे। एक धड़ा मुलायम सिंह के साथ खड़ा था और दूसरा अखिलेश के साथ। उस वक्त अरविन्द कुमार सिंह ने कुछ बड़े पार्टी नेताओं को अखिलेश के पक्ष में लाने का काम किया था।
गोप ने उस मुश्किल वक्त में अखिलेश पर अपना विश्वास बनाये रखा और पार्टी कार्यकर्ताओं को एकजुट रखने में मदद की थी। कुछ जानकारों का ऐसा मानना की अगर उस वक्त अरविन्द अखिलेश के साथ नहीं होते तो आज समाजवादी पार्टी टूट चुकी होती। बाद मे चुनाव चिन्ह साईकिल को लेकर जब खीच-तान होने लगी तब भी अरविन्द ने उसके क़ानूनी पहलुओं को ध्यान में रख कर नरेश अग्रवाल के साथ चुनाव आयोग में अपना पक्ष रखा था।

इसे भी पढ़ें- वित्त मंत्रालय PF पर दे सकता है 8.65% ब्याज दर

अरविन्द कुमार ने अपने राजनीतिक जीवन कि शुरुआत समाजवादी पार्टी के युवा नेता के रूप में की थी। लखनऊ यूनिवर्सिटी से कानून में ग्रेजुएट गोप पर हत्या के प्रयास जैसे कई गंभीर मामलों में केस दर्ज है। वो संसद की स्वास्थ परिवार कल्याण और अन्य पिछड़ा वर्ग जैसी समितियों के सदस्य भी है।

15 जुलाई 1968 को गोरखपुर में जन्मे अरविन्द कुमार सिंह अपने कॉलेज के समय से ही विभिन्न राजनीतिक गतिविधियों में शामिल रहे है। गोप लखनऊ यूनिवर्सिटी के छात्र संघ अध्यक्ष भी रहे है। ऐसा बताया जाता है कि जब समाजवादी पार्टी में पिता पुत्र के बीच वर्चस्व की लड़ाई चल रही थी तब वो अखिलेश यादव के साथ पुरे दम खम से खड़े रहे। शायद यही वजह है अखिलेश आज कल अपनी रैलियों में समाजवादी पार्टी को एकजुट रखने का श्रेय उन्हें दे रहे है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि
, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story