Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

उपवास पर बैठी स्वाती मालीवाल ने लगाई गुहार- अरविंद केजरीवाल सर प्लीज DCP-ACP से मुझे बचाइए

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाती मालीवाल ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मदद की गुहार लगाई है।

उपवास पर बैठी स्वाती मालीवाल ने लगाई गुहार- अरविंद केजरीवाल सर प्लीज DCP-ACP से मुझे बचाइए

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाती मालीवाल महिला सुरक्षा के मुद्दे को लेकर आज चौथे दिन भी अनशन पर हैं। स्वाति मालिवाल की मांग है कि बलात्कारियों को फांसी की सजा मिले। उन्होने आरोप लगाया है कि दिल्ली पुलिस के द्वरा उनके उपवास को तोड़ने का प्रयास किया जा रहा है इसके लिए उन्होने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मदद की गुहार लगाई है।

मालीवाल ने सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर लिखा, अरविंद केजरीवाल सर डीसीपी, एसीपी और डॉक्टर मुझे परेशान कर रहे हैं। मेरा केटॉन लेवल 2 है। जैसा कि आप सराहना करते हैं, वैसा कुछ भी नहीं है। यहां तक कि कल रिपोर्टें गढ़ी गई हैं। राजघाट में हू और पूरा पुलिस बल मुझे जबरन ले जाने की कोशिश कर रहा है। महोदय, मैं आपसे अपनी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए अनुरोध करती हूं।

ये भी पढ़ें- अयोध्या में राम मंदिर ही बनेगा, मस्जिद बाहर बनाएं मुसलमान: RSS नेता इंद्रेश कुमार

एक अन्य ट्वीट में मालीवाल ने लिखा, 'सर कृपया एक उचित चिकित्सकों की टीम गठित करिए जिसे मेरा पैरामीटर लेना चाहिए। दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने अनौपचारिक रुप से मुझे सूचित किया है कि उन्हें प्रधानमंत्री कार्यालय से मेरा उपवास तोड़ने के लिए प्रत्यक्ष निर्देश प्रात हुए हैं। कृपया मदद करें।'
ये भी पढ़ें- बंदूक समाधान नहीं, भटक गए हैं कुछ कश्मीरी नौजवान- सेना प्रमुख रावत
स्वाती मालीवाल ने एक पत्र को ट्वीट करते हुए लिखा, 'रातों रात नोट बन्दी की जा सकती है, तो फिर रातों रात महिलाओं की सुरक्षा के लिए प्रधानमंत्री जी कड़े कदम क्यों नही उठाते। जितनी ऊर्जा अपनी और पुलिस की मेरा अनशन तुड़वाने में लगा रहे हैं, उससे आधी ऊर्जा अगर महिलाओं के हित में लगे तो देश सुधरे। साथियों के नाम मेरा पत्र। ज़रूर पढें। एक अन्य ट्वीट में स्वाती ने कहा, 'मैं दिल्ली पुलिस से अनुरोध करती हूं कि हमारे आसन स्थल पर सादे कपड़ों में महिला पुलिस बल को तैनात ना करें। हम किसी तरह की निगरानी का स्वागत करते हैं लेकिन अगर वे पुलिस हैं तो उन्हें सिविल कपड़ों में क्यों होना चाहिए। कृपया सुनिश्चित करें कि पुलिस सिविल ड्रेस में न हो।'

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top