Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आरूषि हत्याकांड: इन तीन में से कोई एक हो सकता है आरुषि का हत्यारा!

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने तलवार दंपत्ति को बरी कर दिया है।

आरूषि हत्याकांड: इन तीन में से कोई एक हो सकता है आरुषि का हत्यारा!

आरुषि-हेमराज हत्याकांड मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने आरुषि के मां-बाप राजेश तलवार और नूपुर तलवार को बरी कर दिया है। तलवार दंपत्ति पर आरोप था की उन्होंने आरुषि और हेमराज दोनों की हत्या की है। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा कि निचली अदालत ने फिल्म निर्देशक जैसे खुद ही कहानी बना ली।

हाईकोर्ट ने कहा कि आरुषि मामले को किसी मैथ्स की प्रॉब्लम की तरह सुलझाया गया है, ऐसा नहीं होना चाहिए था। आरुषि मामले में अब एक नया मोड़ आ गया। अब सवाल उठ रहे हैं कि आखिर आरुषि को किसने मारा। केस की जांच एक नए सिरे से शुरू होगी।
राजेश और नूपुर तलवार के अलावा आरुषि मामले में तीन और लोगों पर शक का घेरा था जिनका नार्को टेस्ट भी हुआ था। आइए जानते हैं कौन थे वो तीन
1. कृष्णा- राजेश तलवार के डेंटल क्लिनिक में सहायक के तौर पर काम करता था और उनके घर से कुछ ही दूर पर रहता था। कृष्णा ने पूछताछ के दौरान बताया था कि आरुषि और हेमराज को मारने के लिए एक ही चीज का इस्तेमाल किया हया था। उसने दोहरी हत्या के लिए राजकुमार और विजय मंडल को दोषी बताया। उसने कहा की राजेश तलवार का हत्या से कोई लेना देना नहीं था।
2. विजय मंडल- तलवार दंपत्ति के पड़ोसी पुनीश टंडन के घर में काम करता था और तलवार दंपत्ति के घर के नीचे गैराज में रहता था। नार्को टेस्ट में विजय ने बताया था कि कृष्णा और राजकुमार की हेमराज से कहा-सुनी हो गई और उन्होंने उसकी हत्या कर दी। उसने कहा कि आरुषि का रेप हुआ था।
3. राज कुमार- तलवार दंपत्ति के दोस्त डॉ प्रफुल्ल और अनीता दुर्रानी के घर में काम करता था। इन दोनों का घर तलवार दंपत्ति के घर के पास था। राजकुमार ने नार्को टेस्ट में कहा कि हेमराज उसका दोस्त था। उसने कहा कि आरुषि के कमरे में घुसने से पहले हेमराज ने काफी शराब पी थी। जब आरुषि की नींद खुली तो वो घबरा गया और उसकी हत्या कर दी। राज कुमार ने दावा किया कि हेमराज की कृष्णा से कहा-सुनी हो गई थी और कृष्णा ने हेमराज को मार डाला।
गौरतलब है कि आरुषि हत्याकांड अब एक अनसुलझा राज बन गया है जिसे सुलझाना बहुत कठिन है। अब देखना ये है कि इस हत्या का दोषी आखिर कौन है।
Share it
Top