Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जन धन खातों को लेकर अरुण जेटली का बड़ा खुलासा

अरुण जेटली ने कहा कि जन धन योजना का मकसद देश में एक अरब, एक अरब और एक अरब का उद्देश्य रखा गया था।

जन धन खातों को लेकर अरुण जेटली का बड़ा खुलासा

प्रधानमंत्री जन धन योजना की तीसरी वर्षगांठ पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बड़ा खुलासा किया है। अरुण जेटली ने कहा कि जन धन योजना के तहत जीरो अकाउंट में इस साल ज्यादा कमी आई है।

जेटली ने कहा कि बीते सितंबर 2014 में 76.81 फीसदी जीरो बैलेंस अकाउंट थे, जो अगस्त 2017 तक घटकर सिर्फ 21.41 फीसदी रह गए हैं। इसको लेकर वित्तमंत्री काफी निराश हुए।

ये भी पढ़ें - मन की बात में बोले PM मोदी, देश में धर्म के नाम पर हिंसा बर्दाश्त नहीं

उन्होंने आगे कहा कि पीएम मोदी की जन धन योजना का मकसद देश में एक अरब, एक अरब और एक अरब का उद्देश्य रखा गया था। एक अरब यानी 1 अरब यूनीक आधार नंबर, 1 अरब बैंक खाते और 1 अरब मोबाइल फोन के साथ लिंक हो जाएंगे। तभी देश डिजिटल इंडिया की तरफ चलेगा।

जेटली ने ये भी बताया कि बीते साल जनवरी 2015 में 12.55 करोड़ खाते खोले गए थे, जिनकी संख्या 16 अगस्त 2017 तक बढ़कर 29.52 करोड़ हो गई है। लेकिन सवाल अभी भी वहीं है जन धन योजना का असल उद्देश्य पूरा करना।

इस दौरान उन्होंने जीएसटी का जिक्र करते हुए कहा कि जैसे हमने जीएसटी लागू कर डिजिटल इंडिया को बढ़ावा दिया है वैसे ही इस योजना के तहत डिजिटल इंडिया का और भी आगे बढ़ाया जाएगा।

Next Story
Share it
Top