Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बजटः सुधारों को बढ़ाने वाला होगा बजट, तेज आर्थिक वृद्धि और खर्चों को तर्कसंगत बनाने का सुझाव

हमारी कराधान नीति वास्तव में निवेशकों के अनुकूल नहीं रही है।

बजटः सुधारों को बढ़ाने वाला होगा बजट, तेज आर्थिक वृद्धि और खर्चों को तर्कसंगत बनाने का सुझाव

मुंबई. आम बजट से पहले वित्त मंत्री अरूण जेटली ने शुक्रवार को तेज आर्थिक वृद्धि और खर्चों को तर्कसंगत बनाने के लिए नए सुधारों को बढ़ाने का संकेत दिया और कहा कि सरकार उधार के पैसे से काम चलाने में विश्वास नहीं करती। वित्त मंत्री का यह बयान राजकोषीय घाटे के बजट में तय लक्ष्य का 99 प्रतिशत नवंबर में ही पूरा हो जाने के बीच आया है। चालू वित्त वर्ष की समाप्ति से चार महीने पहले ही बाजार से उधार ली जाने वाली राशि खर्च हो गई।

जेटली ने कहा, जहां तक सरकार का सवाल है, हम खर्चों को तर्कसंगत बनाने की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि हम नहीं चाहते हैं कि सरकार अनिश्चितकाल तक उधार के पैसे पर चले। कमाई से ज्यादा खर्च करके अगली पीढ़ी पर कर्ज का बोझ छोड़ने की पूरी सोच, जिस तरह आज हम अधिक खर्च कर रहे हैं, कभी भी विवेकपूर्ण राजकोषीय नीति नहीं कही जा सकती।
वित्त मंत्री ने बजट में स्थिर कर प्रणाली की शुरुआत करने का संकेत दिया और कहा कि अधिक राजस्व जुटाने के लिए केंद्र और राज्य कोई भी अनुचित प्रयास नहीं करेंगे। हमारी कराधान नीति वास्तव में निवेशकों के अनुकूल नहीं रही है। पिछले कुछ महीनों में हमने कर विवादों और ऐसे मुद्दे जिनकी वजह से भारतीय राजस्व ढांचे की बदनामी हुई है उनमें सरलता का प्रयास किया है।
उन्होंने कहा, मेरा हमेशा से मानना है कि जहां कर का भुगतान होना है वहां कर वसूली होनी चाहिए लेकिन सरकार ऐसी कोई अनुचित पहल नहीं करेगी जिससे कि निवेशकों को उस क्षेत्र में बेवजह प्रताड़ित किया जाए। सरकार ने हाल ही में फैसला किया कि वह 3 हजार करोड़ रुपए के ट्रांसफर प्राइसिंग मामले में वोडाफोन के पक्ष में दिए गए मुंबई उच्च न्यायालय के आदेश के खिलाफ अपील नहीं करेगी।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, योजना व्यय में 10 फीसदी कटौती -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top