Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बोले अरूण जेटली, जल्द दें ATM डाटा मामले पर रिपोर्ट

केंद्र ने डेबिट कार्ड मुद्दे को लेकर क्या तैयारी की है उसकी भी विस्तृत जानकारी मांगी है।

बोले अरूण जेटली, जल्द दें ATM डाटा मामले पर रिपोर्ट
नई दिल्ली. भारतीय बैंकिंग क्षेत्र को प्रभावित करने वाली अपनी तरह की सबसे बड़ी डेटा सुरक्षा में सेंधमारी की घटना से सरकारी और निजी क्षेत्र के अनेक बैंकों के 32 लाख से ज्यादा की चपत लगने की आशंका है। बता दें कि सरकार ने रिजर्व बैंक तथा अन्य बैंकों से डेटा में सेंध तथा साइबर अपराध से निपटने के लिये तैयारी के बारे में विस्तृत जानकारी उपलब्ध कराने को कहा है और इस मामले पर जल्द से जल्द रिपोर्ट मांगी है।
वित्त मंत्री अरूण जेटली ने पत्रकारों से कहा कि डेबिट कार्ड मुद्दे पर रिपोर्ट मांगी है. इसके पीछे विचार नुकसान को थामना है। भारतीय स्टेट बैंक सहित अनेक बैंकों ने बड़ी संख्या में डेबिट कार्ड वापस मंगवाए हैं जबकि कई अन्य बैंकों ने सुरक्षा सेंध से संभवत प्रभावित एटीएम कार्डों पर रोक लगा दी है और ग्राहकों से कहा है कि वे इनके इस्तेमाल से पहले पिन अनिवार्य रूप से बदलें। इस समय देश में लगभग 60 करोड़ डेबिट कार्ड हैं जिनमें 19 करोड़ तो रूपे कार्ड हैं जबकि बाकी वीजा और मास्टरकार्ड हैं।
बता दें कि वही दूसरी तरफ डेबिड कार्ड से जुड़े डेटा चोरी की खबर का भारतीय शेयर बाजार पर दिखने को मिल रहा है, एसबीआई के शेयर में -1.46 फीसदी और एक्सिस बैंक के शेयर में -2.38 फीसदी की गिरावट देखी है। इस समय देश में लगभग 70 करोड़ डेबिड कार्ड हैं, जिनमें 19 करोड़ तो रू-पे कार्ड हैं, जबकि बाकी वीजा व मास्टरकार्ड हैं। इस सेंधमारी से प्रभावित होने वाले डेबिट कार्ड में से 26 लाख कार्ड वीजा और मास्टरकार्ड प्लेटफॉर्म के हैं, जबकि 6 लाख कार्ड घरेलू रू-पे प्लेटफॉर्म के हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top