Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

चेक और कार्ड से लगेगी कालेधन पर लगामः अरूण जेटली

जेटली ने कहा मुद्रा के उपयोग को हतोत्साहित करना और दूसरी तरफ प्लास्टिक मुद्रा या अन्य उपलब्ध साधन के उपयोग को बढ़ावा देना है।

चेक और कार्ड से लगेगी कालेधन पर लगामः अरूण जेटली

नई दिल्ली. वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कालेधन की समस्या पर लगाम लगाने के लिए आज चेक और प्लास्टिक मुद्रा (कार्ड) के उपयोग को प्रोत्साहन दिए जाने पर बल दिया। उन्होंने कहा अर्थव्यवस्था में तेजी के मद्देनजर एक खाका तैयार किया गया है और खाका यह है कि लोग मुद्रा का उपयोग बंद करें और चेक या प्लास्टिक मुद्रा का रूख करें।

फोर्ब्स की सर्वश्रेष्ठ उद्यम पूंजी निवेशकों की लिस्ट जारी, 11 इंडो-अमेरिकी भी शामिल

भारतीय प्रतिभूति मुद्रण एवं मुद्रा निर्माण निगम लिमिटेड (एसपीएमसीआईएल) के स्थापना दिवस पर यहां जेटली ने कहा कि अमेरिका या ब्रिटेन जैसे विकसित देशों में मुद्रा का अधिकतम मूल्य 100 डालर और 50 पौंड है। उन्होंने कहा मुद्रा के उपयोग को हतोत्साहित करना और दूसरी तरफ प्लास्टिक मुद्रा या अन्य उपलब्ध साधन के उपयोग को बढ़ावा देना यही उद्देश्य है। यह आखिरी लक्ष्य है।

स्पेक्ट्रम नीलामी से भरी सरकार की झोली, मिले 1.10 लाख करोड़

उन्होंने कहा कि सरकार ऊंचे मूल्य के नकद में होने वाले हस्तांतरण को रोकने के लिए पहल कर रही है। जेटली ने कहा कुछ पहलों की भी घोषणा की गई है जिससे नकदी का उपयोग थोड़ा मुश्किल होगा इससे गैर कानूनी धन के उपयोग पर नियंत्रण लगेगा। बजट 2015-16 में जेटली ने काले धन पर लगाम लगाने के लिए कुछ पहलों की घोषणा की जिनमें जमीन-जायदाद और ऐसे ही अन्य सौदों में नकद लेन-देन को प्रोत्साहन नहीं देना शामिल है।

अमीर छोड़ें एलपीजी की सब्सिडी-पीएम नरेंद्र मोदी

सरकार ने क्रेडिट और डेबिट कार्ड पर प्रोत्साहन देने और एक लाख रुपए से अधिक की खरीद-बिक्री के लिए पैन का उल्लेख करना अनिवार्य बना दिया है। वित्त मंत्री ने अचल संपत्तियों की खरीद के लिए 20,000 या इससे अधिक नकद भुगतान अथवा प्राप्ति पर प्रतिबंध लगाने के संबंध में आयकर कानून में भी संशोधन का भी प्रस्ताव किया है।

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, और क्या कहा अरूण जेटली ने-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top