Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अब वक्त आ गया है कि फील्ड मार्शल करिअप्पा को ''भारत रत्न'' दिया जाए: सेना प्रमुख

अभी तक भारतीय सेना के किसी भी व्यक्ति को ''भारत रत्न'' नहीं दिया गया है।

अब वक्त आ गया है कि फील्ड मार्शल करिअप्पा को

भारतीय थल सेना अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने सेना के पहले कमांडर इन चीफ फील्ड मार्शल केएम करिअप्पा के लिए भारत रत्न की मांग की है।

जनरल बिपिन रावत ने शनिवार को कहा कि अगर दुसरे लोगों को भारत रत्न दिया जा सकता है तो फील्ड मार्शल केएम करिअप्पा को क्यों नहीं मिल सकता है?

फील्ड मार्शल केएम करिअप्पा को भारत रत्न का प्रबल दावेदार बताते हुए जनरल रावत ने कहा कि अब समय आ गया है कि भारतरत्न के लिए फील्ड मार्शल करिअप्पा के नाम की सिफारिश की जाए।

इसे भी पढ़ें- घाटी में वार्ताकार की नियुक्ति से आर्मी ऑपरेशन प्रभावित नहीं होंगे: जनरल रावत

आपको बता दें कि फील्ड मार्शल करिअप्पा सेना में कमीशन पाने वाले पहले भारतीयों में एक हैं। करिअप्पा ने कई मोर्चों पर भारतीय सेना का सफल नेतृत्व किया था।

इसके बाद साल 1949 में फील्ड मार्शल करिअप्पा को 'कमाण्डर इन चीफ' बनाया गया था। साल 1953 तक करिअप्पा इस पद पर रहे थे।

हालांकि अभी तक भारतीय सेना के किसी भी व्यक्ति को भारत रत्न नहीं दिया गया है।

Share it
Top