Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

देश की तीनों सेनाए साथ में करेंगी जॉइंट ट्रेनिंग, तालमेल बढ़ाने की दिशा में उठाया बड़ा कदम

आने वाले समय में तीनों सेनाओं को जोड़ने में यह सिद्धांत पत्र काफी मददगार होगा।

देश की तीनों सेनाए साथ में करेंगी जॉइंट ट्रेनिंग, तालमेल बढ़ाने की दिशा में उठाया बड़ा कदम

देश की तीनों सेनाएं 'आर्मी, नेवी और वायुसेना' ने साथ मिलकर काम करने की दिशा में बड़ा कदम उठाया है। सशस्त्र बलों के इतिहास में पहली बार जॉइंट ट्रेनिंग के लिए मूलभूत सिद्धांतों का 51 पन्नों का एक दस्तावेज तैयार किया गया है।

मंगलवार को तीनों सेनाओं 'आर्मी, नेवी और वायुसेना' प्रमुखों की कमेटी के चेयरमैन और नेवी चीफ एडमिरल सुनील लांबा ने 51 पन्नों का जॉइंट ट्रेनिंग का सिद्धांत पत्र जारी किया है।

यह भी पढ़ें- शर्मनाक: स्कूल परिसर में लड़की को नग्न करके बनाई वीडियो, मामला दर्ज

बता दें कि इस 51 पन्नों का एक दस्तावेज तैयार करने में तीनों सेना मुख्यालयों और संबंधित पक्षों को शामिल किया गया। तीनों सेनाओं के साथ मिलकर काम करने की दिशा में इसे एक अहम कदम माना जा रहा है।

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने पद संभालते ही तीनों सेनाओं की संयुक्तता को अपनी प्राथमिकता बताया था। उन्होंने संकेत दिए थे कि ट्रेनिंग से इसकी शुरुआत की जा सकती है। उन्होंने अंडमान का भी दौरा किया था, जहां तीनों सेनाओं की संयुक्त कमान है।

यह भी पढ़ें- राम जन्मभूमि पर नहीं बनाई जा सकती मस्जिद: सुब्रमण्य स्वामी

एनबीटी की खबर के मुताबिक, इससे पहले अप्रैल में तीनों सेनाओं का संयुक्त सिद्धांत पत्र जारी किया गया था। इस तरह के जॉइंट ट्रेनिंग से सेशन का मकसद तीनों सेनाओं में तालमेल और साथ मिलकर काम करने की क्षमता को बढ़ाना है, जिससे रिसोर्स का अधिकतम इस्तेमाल किया जा सके।

उम्मीद जताई जा रही है कि आने वाले समय में तीनों सेनाओं को जोड़ने में यह सिद्धांत पत्र काफी मददगार साबित हो सकता है।

Next Story
Share it
Top