Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

21 तोपों की सलामी के सा‌थ हुआ मार्शल अर्जन सिंह का अंतिम संस्कार

एयरफोर्स के मार्शल अर्जन सिंह का अंतिम संस्कार दिल्‍ली के बरार स्‍क्वॉयर पर हो गया। उनके परिवार के सदस्यों ने उनकी चिता को दी मुखाग्नि।

21 तोपों की सलामी के सा‌थ हुआ मार्शल अर्जन सिंह का अंतिम संस्कार

एयरफोर्स के मार्शल अर्जन सिंह का दिल्‍ली के बरार स्‍क्वॉयर पर अंतिम संस्कार किया गया। उनके परिवार के सदस्य ने उनकी चिता को मुखाग्नि दी।

इससे पहले पूरे सैन्य सम्मान के साथ उनको आखिरी विदाई दी गई। सेना ने उनके सम्मान में उन्हें 21 की तोपों की सलामी दी। साथ ही वायु सेना फ्लाइट पास्ट निकाल कर मार्शल के प्रति सम्मान जाहिर किया।



भारतीय जनता पार्टी के नेता लाल कृष्‍ण आडवाणी दिल्ली के बरार स्‍क्वॉयर पहुंचकर मार्शल अर्जन सिंह को श्रद्धांजलि दी।

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण में वहां पहुंच कर मार्शल अर्जन सिंह को पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मार्शल अर्जन को अंतिम श्रद्धाजंलि दी।

इंडियन एयरफोर्स के चीफ बीएस धोना, और नवल स्टाफ के चीफ सुनील लांबा ने दिल्ली के बरार स्‍क्वॉयर पहुंचकर मार्शल अर्जन सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की।


उनके पार्थ‌िव शरीर को बरार स्क्वॉयर पर रखा गया है।

मर्शाल अर्जन सिंह के सम्मान में सोमवार को सभी सरकारी इमारतों में राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका दिया गया है।
इससे पहले मार्शल अर्जन सिंह के शव को सोमवार सुबह उनके आवास 7 ए, कौटिल्य मार्ग, नई दिल्ली पर अंतिम दर्शन के लिए रखा गया था। यहां मार्शल अर्जन सिंह को कई नेता और गणमान्य नागरिक श्रृद्धांजलि अर्पित की।
सुबह 8:15 बजे गन कैरिज के साथ मार्शाल की अंतिम यात्रा उनके निवास स्थान से शुरू की गई।
उल्लेखनीय है कि मर्शाल अर्जन सिंह को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, पीएम मोदी, रक्षा मंत्रालय की ओर से रक्षा मंत्री, तीन सेवाओं के चीफ, शहरी विकास राज्य मंत्री और अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने श्रृद्धांजलि दी।
एयरफोर्स के मार्शल अर्जन सिंह का शनिवार शाम को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। अर्जन सिंह 98 साल के थे।
Next Story
Share it
Top