Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अनुपम खेर ने उठाया सवाल- राष्ट्रगान के लिए 52 सेकंड भी नहीं खड़े हो सकते लोग?

अभिनेता अनुपम खेर ने सिनेमा हॉल में राष्ट्रगान को अनिवार्य रूप से बजाए की आलोचना करने वालों आड़े हाथों लिया है।

अनुपम खेर ने उठाया सवाल- राष्ट्रगान के लिए 52 सेकंड भी नहीं खड़े हो सकते लोग?

भारतीय सिनेमा के मशहूर अभिनेता अनुपम खेर ने सिनेमा हॉल में राष्ट्रगान को अनिवार्य रूप से बजाए की आलोचना करने वालों आड़े हाथों लिया है। खेर ने सवाल किया है, जब लोग फिल्म की टिकट के लिए 20 मिनट तक लाइन में खड़े हो सकते हैं, तो राष्ट्रगान के लिए क्यों नहीं?

यह भी पढ़ें: अनुच्छेद 35A की वैधता पर SC में सुनवाई आज, अलगाववादियों ने दी आंदोलन की धमकी

अनुपम खेर ने यह सवाल पुणे में दिवंगत भाजपा नेता प्रमोद महाजन मेमोरियल अवॉर्ड हासिल करने के बाद किया। उन्होंने कहा कि अगर लोग रेस्तरां में घंटों इंतजार कर सकते हैं, थिएटर में टिकट के लिए भी लंबी लाइन में खड़े हो सकते हैं, तो फिर सिनेमा हॉल में राष्ट्रगान के लिए सिर्फ 52 सेकंड तक क्यों खड़े नहीं हो सकते?

यह भी पढ़ें: योगी सरकार का बड़ा फैसला, यूपी के मदरसों में NCRT पाठ्यक्रम से होगी पढ़ाई

सिनेमाघरों में राष्ट्रगान को अनिवार्य करने वालों की आलोचना करते हुए अनुपम ने कहा, 'कुछ लोग मानते हैं कि राष्ट्रगान के समय खड़े होना जरूरी नहीं होना चाहिए, लेकिन मैं मानता हूं कि राष्ट्रगान के लिए खड़े होना उस शख्स की परवरिश को दर्शाता है।'

यह भी पढ़ें: आतंकवाद के संपूर्ण खात्मे की दिशा में काम कर रही है मोदी सरकार : राजनाथ सिंह

हाल ही में FTII (एफटीआईआई) के चेयरमैन बने खेर ने अपने संक्षिप्त भाषण में कहा कि हम जिस तरह से अपने माता-पिता और अध्यापकों के सम्मान में खड़े हो जाते हैं, उसी तरह राष्ट्रगान के लिए खड़ा होना भी अपने देश के प्रति आदर-सम्मान को दिखाता है।'

यह भी पढ़ें: केरल 'लव जेहाद' केस: SC ने दिया अगली सुनवाई में हादिया को पेश करने का निर्देश

Loading...
Share it
Top