Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लोकपाल की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर अन्ना हजारे, बोले- 42 पत्रों का नहीं दिया एक भी जवाब

सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे आज शुक्रवार से एक बार फिर सरकार के खिलाफ लोकपाल विधेयक पारित कराने समेत 6 अन्य मांगों के लिए अनिश्चतकालीन भूख हड़ताल पर बैठे हैं। अन्ना ने कहा कि मैंने सरकार को 42 बार पत्र लिखा, लेकिन सरकार एक बार भी जवाब नहीं दिया, जिसके कारण मुझे एक बार फिर अनशन पर बैठना पड़ा।

लोकपाल की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर अन्ना हजारे, बोले- 42 पत्रों का नहीं दिया एक भी जवाब

सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे आज शुक्रवार से एक बार फिर सरकार के खिलाफ लोकपाल विधेयक पारित कराने समेत 6 अन्य मांगों के लिए अनिश्चतकालीन भूख हड़ताल पर बैठे हैं।

हड़ताल से पहले अन्ना ने कहा कि मैंने सरकार को 42 बार पत्र लिखा, लेकिन सरकार एक बार भी जवाब नहीं दिया, जिसके कारण मुझे एक बार फिर अनशन पर बैठना पड़ा।

इससे पहले उन्होंने सात साल पहले भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन किया था, जिसमें लाखों की संख्या में भारतीय शामिल हुये थे और तत्कालीन सप्रंग सरकार को हिला कर रख दिया था।

अन्ना का आंदोलन

इस बार भी वह ऐतिहासिक राम लीला मैदान से ही केंद्र सरकार के खिलाफ बिगुल फूकेंगे। वर्ष 2011 में भ्रष्टाचार की जांच के लिए लोकपाल के गठन की मांग को लेकर वह इसी मैदान में भूख हड़ताल पर बैठे थे। हालांकि इस बार वह संभावित तौर पर नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली भाजपा सरकार पर निशाना साधेंगे।

स्वामीनाथन आयोग रिपोर्ट

हजारे स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने के अलावा केन्द्र में लोकपाल और राज्यों में लोकायुक्तोंकी नियुक्ति की मांग को लेकर दवाब बना रहे हैं। स्वामीनाथन आयोग में कृषि संकट को हल करने का समाधान दिया गया है।

अन्ना हजारे की अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल

इससे पहले हजारे ने केन्द्र सरकार पर कानून होने के बावजूद भ्रष्टाचार के मामलों की जांच के लिए लोकपाल की नियुक्ति नहीं करने को लेकर निशाना साधा था। हजारे के एक सहयोगी ने कल कहा कि अन्ना पहले राजघाट जाएंगे और उसके बाद रामलीला मैदान आएंगे जहां वह अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल करेंगे।

उन्होंने बताया कि 23 मार्च के दिन का चुनाव ब्रिटिश शासन द्वारा भगत सिंह, राजगुरू और सुखदेव को फांसी दिए जाने के कारण किया गया।

अन्ना का आंदोलन और दिल्ली का ट्रैफिक

दिल्ली यातायात पुलिस ने यात्रियों को अरूणा आसफल अली रोड, दिल्ली गेट, दरियागंज, नई दिल्ली रेलवे स्टेशन, अजमेरी गेट, पहाड़गंज, आईटीओ, राजघाट, मिंटो रोड, विवेकानंद मार्ग और जेएलएन मार्ग से बच कर निकलने की सलाह दी है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top