Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

6 घंटे तक नहीं आई एंबुलेंस, AMU के प्रोफेसर ने तोड़ा दम

AMU के वाइस चांसलर ने बताया कि उन्होंने इस पूरे मामले की जांच के लिए 3 सदस्यीय टीम का गठन किया है

6 घंटे तक नहीं आई एंबुलेंस, AMU के प्रोफेसर ने तोड़ा दम
अलीगढ़. अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के सीनियर प्रोफेसर डी मूर्ति की वक्त पर एंबुलेंस का मिलने से मौत हो गई। एनबीटी की खबर के मुताबिक, 64 साल के डी मूर्ति डिपार्टमेंट ऑफ मॉडर्न इंडियन लेंग्वेज के हेड थे। वह कैंसर के मरीज थे।
रविवार को उनकी एक सर्जिरी हुई थी। लेकिन मंगलवार (25 अक्टूबर) को उनकी हालत अचानक से ज्यादा बिगड़ गई। यूनिवर्सिटी में मौजूद डॉक्टर मे उन्हें दिल्ली शिफ्ट करने की सलाह दी।
लेकिन एंबुसलेंस मुहैया नहीं करवाई गई। अधिकारियों का आरोप है कि कागजी कार्यवाही के चलते एंबुलेंस का प्रबंध नहीं किया जा सका। यूनिवर्सिटी के प्रवक्ता एस पीरजादा ने कहा, ‘एक एंबुलेंस तक मुहैया नहीं करवाई जा सकी। हॉस्पिटल में आपसी समन्वय बिल्कुल नहीं है। उस वक्त पर फॉर्म भरवाने की जरूरत ही क्या थी?’
एएमयू के वाइस चांसलर ने बताया कि उन्होंने इस पूरे मामले की जांच के लिए 3 सदस्यीय टीम का गठन किया है और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।
वाइस चांसलर ने कहा कि पहली नजर में यह देरी डॉक्टरों की तरफ से नहीं बल्कि प्रशासनिक अधिकारियों की लापरवाही की वजह से हुई लगती है। उन्होंने बताया कि कागजी कार्रवाई करने में हुई देरी की वजह से समय पर ऐम्बुलेंस की व्यवस्था नहीं की जा सकी। लिहाजा इस पूरे मामले की जांच हो रही है और 5 नवंबर तक जांच रिपोर्ट जमा कर दी जाएगी।
गौरतलब है कि इससे पहले यूनिवर्सिटी के एक स्टूडेंट की डेंगू के इलाज के दौरान हॉस्पिटल में ही मौत हो गई थी। उसमें पांच डॉक्टरों को दोषी पाया गया था।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top