Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सांसद सदन से नदारद, पार्टी आलाकमान ने मांगा जवाब

ये बिल एक संविधान संशोधन विधेयक था जिसे पारित कराने के लिए सरकार को दो-तिहाई वोट चाहिए थे।

सांसद सदन से नदारद, पार्टी आलाकमान ने मांगा जवाब

भाजपा सांसदों के राज्यसभा में वोटिंग के दौरान उपस्थित नहीं होने पर पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने उनसे जवाब मांगा है।

द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक राज्यसभा में एक अहम बिल पर वोटिंग के दौरान भाजपा के 8 सदस्य सदन में उपस्थित नहीं थे। उनसे नाराज पार्टी आलाकमान ने उनसे जवाब तलब किया है।

सूत्रों के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी इन सांसदों से खासे नाराज बताये जा रहे हैं। ये 8 सांसद राज्य सभा में नेशनल कमिशन फॉर बैकवर्ड क्लासेज बिल पर वोटिंग के दौरान सदन में उपस्थित नहीं थे।

इसे भी पढ़ें - मायावती ने राज्यसभा की सदस्यता से दिया इस्तीफा, मचा बवाल

हालांकि इन सांसदों ने कारण बताते हुए कहा कि जब वों सदन की कार्यवाही में भाग लेने के लिए राज्य सभा जा रहे थे तभी सदन का गेट बंद हो गया और ये सभी सांसद सदन से बाहर ही रह गए।

इस मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार ने मीडिया से कहा कि 31 जुलाई को मानसून सत्र के दौरान राज्य सभा में सरकार के संविधान संशोधन विधेयक के एक महत्वपूर्ण प्रावधान को हटाना पड़ा, क्योंकि सदन में एनडीए के पर्याप्त मौजूद नहीं थे।

जानकारों के मुताबिक सरकार को इस बिल को फिर से लोक सभा नया विधेयक पेश करके पारित कराना होगा और इसके बाद उसे राज्य सभा में भी पारित कराना होगा।

आपको बता दें कि ये बिल एक संविधान संशोधन विधेयक था जिसे पारित कराने के लिए सरकार को दो-तिहाई वोट चाहिए थे।

Next Story
Share it
Top